Articles about अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) एक अंतर-सरकारी संगठन है जिसकी स्थापना अंतरराष्ट्रीय व्यापार में विनिमय दर को स्थिर करने के लिए की गई थी। यह सदस्य देशों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में पर्याप्त तरलता के माध्यम से उनके भुगतान संतुलन में सुधार में मदद करता है, वैश्विक मौद्रिक सहयोग में बढ़ोतरी को बढ़ावा देता है। यह 188 देशों द्वारा प्रशासित किया जाता है और ये देश इसके कार्यों के लिए जवाबदेह भी हैं। इसका मुख्यालय वाशिंगटन डीसी में है। IMF की स्थापना 1945 में की गई थी। विभिन्न देशों की सरकार के 45 प्रतिनिधियों ने अमेरिका के ब्रिटेन वुड्स में बैठक कर अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक समझौते की रूपरेखा तैयार की थी। 27 दिसंबर 1945 को 21 देशों के समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद IMF की स्थापना हुई।

IMF ने भारत की आर्थिक विकास दर का अनुमान घटाया, वैश्विक मंदी की आशंका जताई

दुनियाभर में चल रही मंदी की खबरों के बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने मंगलवार को भारत को फिर से बड़ा झटका देते हुए उसके सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के विकास के अनुमान में कटौती कर दी है।

मित्र देश भी सोचते हैं हम हमेशा पैसा मांगते रहते हैं- पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शरीफ

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने बुधवार को देश की आर्थिक स्थिति को लेकर बड़ा बयान दिया था।

श्रीलंका के बाद इन दर्जनभर देशों पर मंडरा रहा आर्थिक संकट का खतरा

भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका में इन दिनों हालात बेहद खराब हैं। आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका के राष्ट्रपति ने देश से भागकर पद छोड़ दिया है। फिलहाल वहां की जनता सड़कों पर है और नए राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम के ऐलान का इंतजार कर रही है।

IMF ने रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते भारत के विकास दर अनुमान को घटाकर 8.2 प्रतिशत किया

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने अपनी नवीनतम विश्व आर्थिक रिपोर्ट में मौजूदा वित्त वर्ष 2022-23 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के विकास के अनुमान को 80 आधार अंक घटाकर 8.2 प्रतिशत कर दिया है।