खुदरा महंगाई दर: खबरें

खाने-पीने की कीमतों पर दिखेगा भीषण गर्मी का असर, खाद्य महंगाई दर बढ़ेगी

देश के अलग-अलग हिस्सों में पड़ रही भीषण गर्मी से आने वाले दिनों में खाने-पीने की कीमतों पर असर पड़ेगा। यह अनुमान अर्थशास्त्रियों ने लगाया है।

सरकार ने की सब्जियों पर नजर रखने की तैयारी, अधिक भाव बढ़ने पर देगी दखल

देश में बढ़ती खाद्य महंगाई सरकार के लिए चुनौती बनी हुई है। इसमें सब्जियों की कीमतों में होती बढ़ोतरी ने आम आदमी के साथ सरकार को भी चिंतित कर दिया है।

दिसंबर में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 5.69 प्रतिशत पर पहुंची, औद्योगिक उत्पादन भी घटा

खाने-पीने की बढ़ती कीमतों से दिसंबर में खुदरा महंगाई दर पिछले महीने के मुकाबले बढ़ गई है। यह 5.69 प्रतिशत दर्ज की गई, जबकि नवंबर में 5.55 प्रतिशत थी।

सितंबर में 5.02 प्रतिशत रही खुदरा महंगाई दर, 3 महीने में सबसे कम

सब्जियों और खाद्य पदार्थों के दामों में कमी का असर महंगाई दर पर दिखा है। गुरुवार को सामने आए आंकड़ों में सितंबर में खुदरा महंगाई दर 3 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई।

खुदरा महंगाई दर में गिरावट, 7.44 प्रतिशत से घटकर अगस्त में 6.83 प्रतिशत हुई

खाद्य पदार्थों और सब्जियों की बढ़ती कीमतों में हल्की राहत के कारण अगस्त के महीने में खुदरा महंगाई दर गिर गई।

महंगाई दर 7.44 प्रतिशत पर पहुंची, 15 महीनों में सबसे अधिक

सब्जियों और अन्य खाद्य पदार्थों की बढ़ी कीमतों के कारण खुदरा महंगाई दर जुलाई में बढ़कर 7.44 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जो जून में 4.87 प्रतिशत पर थी।

महंगाई दर मई में 4.25 प्रतिशत रही, 2 साल में सबसे कम

महंगाई के मामले में राहत भरी खबर है और मई में खुदरा महंगाई दर 25 महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई। मई में महंगाई दर 4.25 प्रतिशत रही।

महंगाई दर में बड़ी गिरावट, 15 महीने के सबसे निचले स्तर 5.66 प्रतिशत पर पहुंची 

खुदरा महंगाई दर में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। मार्च में महंगाई दर 5.66 प्रतिशत के साथ पिछले 15 महीने में सबसे कम रही।

महंगाई दर अक्टूबर में 6.44 प्रतिशत रही, अब भी RBI के तय दायरे से ऊपर

देश में खुदरा महंगाई दर फरवरी में मामूली गिरावट के साथ 6.44 प्रतिशत दर्ज की गई। यह जनवरी में 6.52 प्रतिशत थी।

जनवरी में महंगाई दर फिर बढ़ी, 6.52 प्रतिशत के साथ 3 महीने के उच्चतम स्तर पर 

भारत में खुदरा महंगाई में एक बार फिर से इजाफा हुआ है और यह जनवरी में तीन महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई। दिसंबर में यह 5.72 प्रतिशत रही थी, लेकिन जनवरी में 6.52 प्रतिशत हो गई।

दिसंबर में महंगाई दर गिरकर 5.72 प्रतिशत पर आई, एक साल में सबसे कम

आम बजट से पहले खुदरा महंगाई को लेकर राहत की खबर आई है। यह दिसंबर में 5.72 प्रतिशत पर आ गई है जो एक साल में सबसे कम है।

सितंबर में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 7.41 प्रतिशत पर पहुंची, 5 महीनों में सबसे अधिक

देश के लोगों को महंगाई से राहत नहीं मिल रही है। खाद्य पदार्थों की कीमतों में लगातार इजाफा होने से सितंबर में खुदरा महंगाई दर 0.41 प्रतिशत के इजाफे के साथ 7.41 प्रतिशत पर पहुंच गई है।

खाद्य पदार्थों के महंगा होने से अगस्त में बढ़कर 7 प्रतिशत हुई खुदरा महंगाई दर

खाद्य पदार्थों के महंगा होने के कारण अगस्त में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 7 प्रतिशत पर पहुंच गई है। सोमवार को जारी हुए सरकारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है।