ISI ने आतंकी संगठनों से साथ की बैठक

दुनिया

10 Sep 2019

कश्मीर मुद्दे पर आतंक के सहारे पाकिस्तान, ISI ने आतंकवादी संगठनों के साथ की बैठक

जम्मू-कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने के कूटनीतिक प्रयास विफल होने के बाद पाकिस्तान अब आतंकवाद का सहारा लेने की योजना बना रहा है।

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI अब आतंकवादी संगठनों के साथ मिलकर भारत में आतंकी हमले की फिराक में है ताकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान इस ओर खींचा जा सके।

खुफिया जानकारी मिली है कि इसे लेकर ISI इस्लामाबाद में आतंकी संगठनों के साथ उच्च-स्तरीय बैठक की है।

आइये, इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

बैठक

इन आतंकी संगठनों के कमांडरों ने लिया हिस्सा

खुफिया जानकारी के अनुसार, ISI ने जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा, हिज्बुल मुजाहिद्दीन, और खालिस्तानी जिंदाबाद फोर्स के शीर्ष नेतृत्व ने हिस्सा लिया और भारत में अस्थिरता फैलाने के अपने मंसूबों का खाका तैयार किया।

इंडिया टूडे की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान सेना के एक सेफ हाउस में यह बैठक हुई और इसमें आतंकी संगठनों के शीर्ष कमांडरों ने भाग लिया था।

इसमें जम्मू-कश्मीर समेत भारत के दूसरे हिस्सों में आतंकी हमलों को अंजाम देने के लेकर रणनीति पर बात हुई थी।

योजना

भारत के खिलाफ प्रदर्शनों की बनी योजना

खुफिया जानकारी के अनुसार बैठक में इस बात की रणनीति बनी है कि खालिस्तान समर्थक संगठन अमेरिका और इंग्लैंड में कश्मीरी अलगाववादियों के साथ मिलकर भारत के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे।

ISI ने इसे लेकर खालिस्तानी समर्थक संगठन खालिस्तान जिंदाबाद के नेता रंजीत सिंह नीटा से मुलाकात की थी और उससे जम्मू-कश्मीर में अपने नेटवर्क का खड़ा करने को कहा है।

बता दें, पाकिस्तान लगातार जम्मू-कश्मीर में अस्थिरता फैलाने की कोशिश में जुटा हुआ है।

दुनिया की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

रिहाई

आतंकी मसूद अजहर को किया गया रिहा

सोमवार को खबर आई थी कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त होने के बाद पाकिस्तान भारत के खिलाफ किसी 'बड़ी कार्रवाई' की योजना बना रहा है।

इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) ने सरकार को पाकिस्तान की तरफ से राजस्थान में भारत-पाक सीमा पर अतिरिक्त सेना की तैनाती को लेकर अलर्ट भेजा था।

इसके अलावा अलर्ट में कहा गया था कि पाकिस्तान ने भारत में आतंकी कार्रवाई को तेज करने के लिए वैश्विक आंतकी मसूद अजहर को जेल से रिहा किया है।

रिहाई

चोरी-छिपे मसूद अजहर को किया गया रिहा

भारत-पाकिस्तान में जारी तनाव के बीच IB ने अपने अलर्ट में यह भी बताया है कि पाकिस्तान ने चोरी-छिपे जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को जेल से रिहा कर दिया है।

उसकी रिहाई दूसरे आतंकी संगठनों के साथ मिलकर भारत में आतंकी कार्रवाईयों को अंजाम देने की योजना बनाने के लिए की गई है।

ऐसी खबरें आई थीं कि फरवरी में हुए पुलवामा हमले के बाद बढ़े अंतरराष्ट्रीय दबाव के बीच पाकिस्तान ने खूंखार आतंकी को हिरासत में लिया था।

बौखलाहट

अनुच्छेद 370 में बदलाव से बौखलाया पाकिस्तान

इससे पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा था कि जम्मू-कश्मीर में भारत की कार्रवाई का 'हर संभव जवाब' दिया जाएगा।

एक महीने से अधिक समय पहले भारत ने जम्मू-कश्मीर को दिया विशेष दर्जा समाप्त किया था।

उसके बाद से पाकिस्तान की तरफ से लगातार उकसावे वाली बयानबाजी जारी है। मामले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश में जुटा पाकिस्तान कई बार युद्ध की धमकी दे चुका है।

हालांकि, उसे अधिकतर अंतरराष्ट्रीय मंचों से निराशा ही हाथ लगी है।

खबर शेयर करें

भारत

पाकिस्तान

इस्लामाबाद

जम्मू और कश्मीर

इंग्लैंड

लश्कर-ए-तैयबा

खालिस्तान

आतंकी संगठन

जैश-ए-मोहम्मद

अमेरिका

खबर शेयर करें

अगली खबर