मोदी का बयान, कश्मीर पर बाहरी दखल की जरूरत नहीं

दुनिया

26 Aug 2019

ट्रम्प की मौजूदगी में बोले मोदी, कश्मीर भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मसला, बाहरी दखल की जरूरत नहीं

फ्रांस में हो रहे G7 सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ बैठक की।

इस बीच ट्रम्प की मौजूदगी में प्रधानमंत्री मोदी ने साफ किया कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मसला है और वह किसी अन्य देश को मामले में परेशान नहीं करना चाहते।

वहीं ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने कल रात प्रधानमंत्री मोदी से कश्मीर मुद्दे पर बात की थी और उन्होंने कहा कि सब उनके नियंत्रण में है।

फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के निजी आमंत्रण पर फ्रांस पहुंचे हैं प्रधानमंत्री मोदी

बता दें कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमेन्युल मैक्रों के निजी आमंत्रण पर बहरीन से रविवार शाम को फ्रांस पहुंचे हैं। यहां उनके और ट्रम्प के बीच मुलाकात पहले से तय थी। इसमें कश्मीर मुद्दे पर बात होने की संभावना पहले से जताई जा रही थी।

बयान

मोदी ने कहा, चर्चा कर मुद्दों का समाधान कर सकते हैं भारत-पाकिस्तान

समाचार एजेंसी ANI ने प्रधानमंत्री मोदी के इस बयान का वीडियो जारी किया है।

इसमें ट्रम्प के साथ बैठे प्रधानमंत्री मोदी कह रहे हैं, "भारत और पाकिस्तान के सारे मुद्दे द्विपक्षीय हैं और इसलिए हम दुनिया के किसी भी देश को इनके लिए कष्ट नहीं देते हैं। मुझे विश्वास है कि भारत और पाकिस्तान, जो 1947 से पहले एक ही थे, हम मिलजुल कर हमारी समस्याओं पर चर्चा भी कर सकते हैं और समाधान भी कर सकते हैं।"

दुनिया की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

सुनें प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कहा

हंसी-मजाक

जब ट्रम्प ने प्रधानमंत्री मोदी से किया मजाक

प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री मोदी और ट्रम्प के बीच हंसी-मजाक भी देखने को मिला।

प्रधानमंत्री मोदी मीडिया से हिंदी में बात करते हुए कह रहे थे कि वो और ट्रम्प बात करते रहेंगे और जब भी जरूरत होगी तब मीडिया को जानकारी दी जाएगी।

इस पर ट्रम्प मजाक करते हुए कहते हैं कि वह (मोदी) बहुत अच्छी अंग्रेजी बोलते हैं, बस वह बात नहीं करना चाहते।

इस पर मोदी और ट्रम्प दोनों खिलखिलाकर हंसने लगते हैं।

मोदी और ट्रम्प के बीच हुआ हंसी-मजाक

ट्रम्प का बयान

ट्रम्प ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी के साथ बहुत अच्छी चर्चा हुई

ट्रम्प ने इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी के बात हुई बातचीत के बारे में भी बात की।

उन्होंने कहा, "हम व्यापार के बारे में बात कर रहे हैं, हम सेना और अन्य कई अलग-अलग चीजों के बारे में भी बात कर रहे हैं। हमारी बहुत अच्छी चर्चा हुई।"

ट्रम्प ने बताया कि वह और प्रधानमंत्री मोदी कल रात डिनर के लिए साथ थे और उन्होंने भारत के बारे में काफी कुछ सीखा।

प्रधानमंत्री मोदी कल ही फ्रांस पहुंचे थे।

कश्मीर पर मध्यस्थता

तीन बार कश्मीर पर मध्यस्थता की बात कह चुके हैं ट्रम्प

बता दें कि अनुच्छेद 370 पर भारत सरकार के फैसले के बाद बने भारत-पाकिस्तान तनाव के बीच ट्रम्प तीन बार कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता का प्रस्ताव दे चुके हैं।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की मौजूदगी में उन्होंने ये दावा भी किया था कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने को कहा था।

हालांकि, भारत ने उनके इस बयान को तत्काल खारिज करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी ने कभी ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं रखा।

खबर शेयर करें

भारत

पाकिस्तान

कश्मीर

इमरान खान

नरेंद्र मोदी

डोनाल्ड ट्रम्प

फ्रांस

खबर शेयर करें

अगली खबर