अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिले प्रधानमंत्री मोदी

दुनिया

28 Jun 2019

G20 समिटः डोनाल्ड ट्रंप से मिले प्रधानमंत्री मोदी, इन मुद्दों पर हुई बात

G20 समिट में भाग लेने जापान गए प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ शुक्रवार को द्विपक्षीय बैठक की।

समिट के औपचारिक उद्घाटन से पहले हुई इस मुलाकात में दोनों नेताओं ने व्यापार, सुरक्षा और 5G कम्यूनिकेशन नेटवर्क समेत कई मुद्दों पर बात की।

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी और ट्रंप ने जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ जापान-अमेरिका-भारत त्रिपक्षीय फोरम की बैठक में हिस्सा लिया था।

आइये, इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

बैठक

दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद ट्रंप से मोदी की पहली मुलाकात

दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ यह पहली मुलाकात थी।

बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वो ट्रंप के साथ ईरान, 5G, द्विपक्षीय और सुरक्षा संबंधों के बारे में बातचीत करना चाहते हैं।

मोदी ने ट्रंप को उस पत्र के लिए भी शुक्रिया कहा जिसमें उन्होंने भारत के प्रति प्यार जाहिर किया था।

यह पत्र हाल ही में भारत दौरे पर आए अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियों ने मोदी को दिया था।

बधाई

ट्रंप ने कहा- जीत के हकदार थे मोदी

ट्रंप ने कहा कि बैठक के दौरान दोनों देश व्यापार पर बातचीत करेंगे।

उन्होंने कहा, "हम अच्छे दोस्त बन गए हैं और दोनों देश पहले कभी इतने करीब नहीं रहे। मैं यह निश्चित होकर कह सकता हूं। हम सैन्य सहित कई क्षेत्रों में साथ काम करेंगे। आज हम व्यापार के बारे में बात करेंगे।"

इस दौरान ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी को लोकसभा चुनावों में मिली ऐतिहासिक जीत पर भी बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने कई अच्छे काम किए हैं।

दुनिया की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

मोदी और ट्रंप की मुलाकात की कुछ झलकियां

मुलाकात

शिंजो आबे से भी मिले मोदी

मोदी ने जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे से भी मुलाकात की। आबे ने कहा कि अब भारत आने की उनकी बारी है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को चुनावों में जीत के लिए भी बधाई दी।

मोदी ने आबे को मुबारकबाद देने के बाद धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि आबे भारत के पहले दोस्त है जिन्होंने फोन पर उन्हें सबसे पहले बधाई दी थी।

मोदी ने आबे के साथ वाराणसी में जापान के सहयोग से बन रहे कन्वेंशन सेंटर पर भी बात की।

G20 समिट

आज से शुरू होगी G20 समिट

G20 को दो दिवसीय समिट आज से शुरू होगी। इसका गठन 1999 में उभरती और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के साथ विचार-विमर्श और समन्वय को बढ़ावा देने के लिए किया गया था।

कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका सबसे पहले इसके सदस्य बने।

इसके सदस्य वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का करीब 85 फीसदी, वैश्विक व्यापार के 75 फीसदी और कुल आबादी के दो-तिहाई से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं। विश्व बैक और IMF प्रमुख भी इस संगठन के सदस्य हैं।

ये हैं G20 के सदस्य

अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन और अमेरिका जी-20 के सदस्य हैं। कई अन्य संगठनों को भी G20 की प्रमुख बैठकों के लिए आमंत्रित किया जाता है।

खबर शेयर करें

दक्षिण कोरिया

चीन

भारत

जापान

ऑस्ट्रेलिया

तुर्की

डोनाल्ड ट्रम्प

इटली

कनाडा

इंडोनेशिया

ब्राजील

दक्षिण अफ्रीका

अर्जेंटीना

खबर शेयर करें

अगली खबर