अमेरिका के वर्जीनिया इलाके में गोलीबारी, 11 की मौत

दुनिया

01 Jun 2019

अमेरिकाः वर्जीनिया में सरकारी कार्यालय में गोलीबारी, 11 की मौत, कई घायल

अमेरिका में एक बार फिर गोलीबारी की घटना में लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

यहां के वर्जीनिया बीच इलाके में स्थित एक नगर पालिका के एक नाराज कर्मचारी ने अपने सहकर्मियों पर गोलियां चला दी।

नगर पालिका के कार्यालय में हुई इस गोलीबारी में 11 कर्मचारियों की मौत हो गई और चार लोग घायल हुए हैं।

पुलिस ने हमलावर कर्मचारी को ढेर कर दिया है। यह घटना शुक्रवार की है।

जवाबी कार्रवाई

पुलिस ने हमलावर को किया ढेर

पुलिस ने हमलावर को किया ढेर

वर्जीनिया बीच के पुलिस अधिकारी जेम्स सर्वेरा ने बताया कि हमलावर कर्मचारी ने बिल्डिंग में घुसते ही अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी।

उसने एक पुलिस अधिकारी पर भी गोली चलाई, जिसके जवाब में पुलिस ने भी गोलीबारी की। इस गोलीबारी में हमलावर कर्मचारी ढेर हो गया।

हमलावर की पहचान जाहिर नहीं की गई है। सर्वेरा ने बताया कि पुलिस अधिकारी ने बुलैट प्रूफ जैकेट पहन रखी थी, इसलिए वह इस हमले में बच गया।

जांच

FBI भी जांच में जुटी

सर्वेरा ने कहा कि इस मामले की जांच जारी है। अमेरिका की खुफिया एजेंसी FBI और होमलैंड सिक्योरिटी विभाग के विशेषज्ञ स्थानीय पुलिस की जांच में सहायता कर रहे हैं।

पुलिस ने बताया कि हमलावर कर्मचारी लंबे समय से नौकरी कर रहा था और वह पिछले कुछ महीनों से नाराज चल रहा था।

पुलिस ने हमलावर के बारे में इससे ज्यादा जानकारी नहीं दी है।

दुनिया की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

ट्रंप को दी गई मामले की सूचना

वर्जीनिया के मेयर बॉबी ड्येर ने घटना के दिन को वर्जीनिया बीच के इतिहास का सबसे भयानक दिन बताया है। वहीं व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप को घटना की जानकारी दे दी गई है और मामले पर नजर रखी जा रही है।

गोलीबारी की घटना

बीते महीने स्कूल में हुई थी गोलीबारी

अमेरिका के कोलाराडो में बीते महीने गोलीबारी हुई थी, जिसमें एक छात्र की मौत हो गई थी।

यहां के डेनवर इलाके के एक स्कूल में दो छात्रों ने हेंडगन से गोलीबारी की।

इससे उनके एक क्लासमेट की मौत हो गई और सात अन्य घायल हो गए। इन हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

हाईलैंड रेंच के साइंस, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग और मैथ (STEM) स्कूल में दो हमलावर हथियारों के साथ आए और छात्रों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी।

घटना

क्लासरूम में मौजूद था एक हमलावर

गोलीबारी में घायल हुए एक 17 वर्षीय छात्र के पिता फर्नांडो मोंटोया ने बताया कि उनके बेटे को तीन गोलियां लगी है।

मोंटोया के मुताबिक, उनके बेटे ने बताया कि एक हमलावर बाहर से उसके क्लासरूम में आया और गोलीबारी शुरू कर दी और एक हमलावर पहले से उसकी क्लास में मौजूद था। उसने अपने गिटार केस से पिस्तौल निकाला और गोलियां चलानी शुरू कर दी।

घटना की जानकारी मिलते ही SWAT टीम ने मौके पर पहुंच गई थी।

पुरानी घटनाएं

कोलोराडो में पहले भी होती रही है गोलीबारी की घटनाएं

कोलोराडो में कई बार मास शूटिंग की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। 2012 में हमलावर ने डेनवर इलाके के फिल्म थियेटर में गोलीबारी की थी, जिससे 12 लोगों की मौत हुई और कई लोग घायल हुए थे।

STEM स्कूल में हुई गोलीबारी की घटना नॉर्थ कैरोलिना यूनिवर्सिटी में हुई गोलीबारी के एक सप्ताह के बाद हुई है।

इसमें दो लोगों की मौत और चार लोग घायल हुए थे। इस मामले में एक 22 वर्षीय छात्रा को आरोपी बनाया गया है।

खबर शेयर करें

डोनाल्ड ट्रम्प

गोलीबारी

स्कूल

खबर शेयर करें

अगली खबर