बेटे ने पिता के शव के सामने लिए फेरे

अजब-गजब

13 Aug 2019

अपनी बारात में मृत पिता को ले गया बेटा, शव के सामने लिए फेरे

कई लोगों की इच्छाएँ अधूरी रह जाती हैं, जिसे उनके बेटे पूरे करते हैं। एक ऐसा ही मामला तमिलनाडु के विल्लुपुर में देखने को मिला है।

दरअसल, एक पिता का सपना था कि वह अपने बेटे की शादी होते हुए देखे, लेकिन शादी से पहले ही उनकी मौत हो गई।

ऐसे में पिता की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए बेटा मृत पिता को नए कपड़े पहनाकर अपनी बरात में ले गया और उनके शव के सामने सात फेरे लिए।

इच्छा

पिता की इच्छा थी धूम-धाम से करें बेटे की शादी

पिता की इच्छा थी धूम-धाम से करें बेटे की शादी

जानकारी के अनुसार, 31 साल के डी अलेक्जेंडर की शादी 2 सितंबर को होनी तय हुई थी, लेकिन शुक्रवार को अचानक अलेक्जेंडर के पिता देवमणि की मृत्यु हो गई।

ऐसे में उनका सपना अधूरा रह गया, जबकि देवमणि, बेटे की शादी को लेकर काफ़ी ख़ुश थे और उसकी तैयारी में जुटे हुए थे।

उनकी इच्छा थी कि वो अपने बेटे की शादी ख़ूब धूम-धाम से करें, लेकिन नियति में कुछ और ही होना लिखा था।

निर्णय

पिता का अंतिम संस्कार करने से पहले लिया शादी करने का निर्णय

पिता की मौत के बाद अलेक्जेंडर ने उनकी अंतिम इच्छा पूरी करने की सोची और निर्णय लिया की उनका अंतिम संस्कार करने से पहले ही वह शादी करेंगे।

इसके लिए अलेक्जेंडर ने अपनी होने वाली पत्नी अन्नपूर्णानी से बात की। अन्नपूर्णानी को भी इससे कोई आपत्ति नहीं थी और वो शादी के लिए झट से तैयार हो गईं।

बता दें कि अन्नपूर्णानी एक स्कूल टीचर हैं।

दुल्हन के मानने के बाद दोनों पक्षों ने शादी की तैयारियाँ शुरू कर दी।

अजब-गजब की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

अंतिम संस्कार

शनिवार को किया गया अंतिम संस्कार

शनिवार को किया गया अंतिम संस्कार

शादी की तैयारी होने के बाद बारात ले जाते समय देवमणि के शव को नहलाकर नए कपड़े भी पहनाए गए।

इसके बाद शव के सामने ही अलेक्जेंडर और अन्नपूर्णानी शादी बंधन में बंध गए। दोनों ने देवमणि के शव के सामने सात फेरे भी लिए।

शादी के बीच में दूल्हा-दुल्हन और परिवार के अन्य सदस्यों ने मृत देवमणि के शव के साथ फोटो भी खिंचवाएँ।

शुक्रवार को शादी होने के बाद शनिवार को शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

खबर शेयर करें

तमिलनाडु

अजब-गजब खबरें

खबर शेयर करें

अगली खबर