मिस्बाह ने कहा लोग- लोग मुझे गोली मार देते

खेलकूद

10 Oct 2019

जानें क्यों पाकिस्तान के कोच मिस्बाह उल हक ने कहा- आप लोग मुझे गोली मार दोगे

श्रीलंका की कमजोर टीम के खिलाफ भी अपने घर में टी-20 सीरीज में क्लीन स्वीप होने के बाद दुनिया की नंबर एक टी-20 टीम पाकिस्तान आलोचकों के निशाने पर है।

कई पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी और आलोचक लगातार टीम और नए कोच मिस्बाह उल हक पर निशाना साध रहे हैं।

तीसरा टी-20 हारने के बाद प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पाकिस्तानी कोच से टीम सिलेक्शन को लेकर सवाल पूछे गए जिस पर उनका जवाब हैरान करने वाला था।

आइए जानें।

बयान

आबिद को चुनता तो लोग मुझे गोली मार देते- मिस्बाह

प्रेंस कांफ्रेंस के दौरान मिस्बाह से पूछा गया कि आखिर क्यों फखर जमान की जगह आबिद अली को नहीं चुना गया।

इसके अलावा मिस्बाह से यह भी पूछा गया कि नंबर-3 के बल्लेबाज बाबर आजम से ओपनिंग कराके उन पर दबाव क्यों डाला गया।

इसके जवाब में मिस्बाह ने कहा कि फखर का औसत 47 का है जबकि आबिद का 20।

उन्होंने आगे कहा, "यदि मैं फखर की जगह आबिद को चुनता तो आप लोग मुझे गोली मार दोगे।"

मिस्बाह के जवाब का वीडियो

खेलकूद की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

मिस्बाह उल हक

हाल ही में मिस्बाह को बनाया गया है कोच और मुख्य चयनकर्ता

विश्व कप 2019 में पाकिस्तान का प्रदर्शन बेहद खराब रहा था और टीम ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई थी।

इसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने 2017 चैंपियन्स ट्रॉफी जिताने वाले कोच मिकी ऑर्थर को हटा दिया था।

PCB ने पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी मिस्बाह उल हक को टीम का मुख्य कोच बनाया था और उन्हें नेशनल सिलेक्टर के पद पर भी तैनात किया था।

कोचिंग

मिस्बाह के लिए मिली-जुली रही पहली सीरीज़

मिस्बाह के लिए कोचिंग करियर की शुरुआत मिली-जुली रही है। पाकिस्तान ने मिस्बाह के अंडर श्रीलंका के खिलाफ अपने घर में वनडे और टी-20 सीरीज खेली।

वनडे सीरीज का पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था और बाकी दो मैचों में पाकिस्तान ने जीत हासिल करके 2-0 से सीरीज अपने नाम की थी।

टी-20 सीरीज में अहमद शहजाद और उमर अकमल जैसे खिलाड़ियों की वापसी निराशाजनक रही और टीम को क्लीन स्वीप झेलना पड़ा।

ऑस्ट्रेलिया मेें होगी मिस्बाह की कड़ी परीक्षा

अगले महीने पाकिस्तान को ऑस्ट्रेलिया जाकर तीन टी-20 और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। ऑस्ट्रेलिया दौरा मिस्बाह के लिए कड़ी चुनौती होगी, क्योंकि उन्हें सही टीम चयन करने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

खबर शेयर करें

पाकिस्तान क्रिकेट टीम

मिस्बाह उल हक

खबर शेयर करें

अगली खबर