चेतेश्वर पुजारा के जन्मदिन पर उनके खास रिकॉर्ड

खेलकूद

25 Jan 2019

#BirthdaySpecial: जन्मदिन पर जानिए पुजारा कैसे बने भारतीय टीम की दीवार

भारतीय टीम के भरोसेमंद बल्लेबाज़ चेतेश्वर पुजारा आज अपना 30वां जन्मदिन मना रहे हैं।

पुजारा का जन्म 25 जनवरी, 1988 को गुजरात के राजकोट में हुआ था। बहुत कम लोग ही जानते हैं कि बल्लेबाज़ी में राहुल द्रविड़ की कार्बन कॉपी पुजारा पढ़ाई में भी उनकी ही तरह थे।

पुजारा ने क्रिकेट के साथ-साथ अपनी पढ़ाई भी जारी रखी और बीबीए की डिग्री हासिल की।

पुजारा के जन्मदिन पर आज हम आपको उनके खास रिकॉर्ड के बारे में बताते हैं।

क्रिकेट के गुर

पिता अरविंद पुजारा ने चेतेश्वर पुजारा को सिखाए क्रिकेट के गुर

2010 में भारतीय टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले चेतेश्वर पुजारा को बचपन से ही क्रिकेट खेलना पसंद था।

पुजारा की प्रतिभा को पहचानते हुए पिता अरविंद और मां रीमा ने उन्हें बचपन से ही क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहित किया। बचपन में क्रिकेट के शुरूआती गुर पुजारा को पिता अरविंद से ही सीखने को मिले।

आपको बता दें कि पुजारा के पिता अरविंद और चाचा बिपिन भी सौराष्ट्र के लिए रणजी खेल चुके हैं।

अंडर-14 क्रिकेट

टेस्ट क्रिकेट में अंडर-14 में ही पुजारा ने बिखेर दिए थे जलवे

पुजारा की प्रतिभा को देखते हुए 2000-01 में उनका सेलेक्शन अंडर-14 टीम में हुआ। महज़ 12 साल की उम्र में ही पुजारा ने अपने खेल से सभी का दिल जीत लिया था।

अंडर-14 क्रिकेट में पुजारा ने पहले मुंबई के खिलाफ 138 और फिर बड़ौदा के खिलाफ शानदार 306 रनों की पारी खेली, जो उस समय एक रिकार्ड था।

इसके बाद 2005 में ही उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला अंडर-19 मैच खेलते हुए शानदार 211 रन बनाए।

खेलकूद की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

प्रदर्शन

इस प्रदर्शन के दम पर पुजारा को मिली भारतीय टीम में जगह

2006 में अंडर-19 विश्व कप में चेतेश्वर पुजारा ने शानदार प्रदर्शन किया, जिसके कारण उन्हें टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया था।

2008 से 2013 के बीच प्रथम श्रेणी क्रिकेट में चेतेश्वक पुजारा ने तीन तिहरे शतक बनाए।

घरेलू क्रिकेट में एक महीने में तीन तिहरे शतक बनाने वाले पुजारा विश्व के इकलौते बल्लेबाज़ हैं। इसके साथ ही पुजारा के नाम सबसे कम उम्र में तिहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड है।

टेस्ट क्रिकेट

इस कारण द्रविड़ से होती है पुजारा की तुलना

द्रविड़ के टेस्ट से संन्यास लेने के बाद से पुजारा तीन नंबर पर बल्लेबाज़ी कर रहे हैं। पुजारा के शुरूआती करियर में ही उनकी तुलना 'द वॉल' के नाम से मशहूर द्रविड़ से की जाने लगी थी।

टेस्ट में 5,000 रन पूरे करने के बाद पुजारा ने साबित भी कर दिया कि वह भारत के लिए द्रविड़ से कम नहीं हैं।

दरअसल टेस्ट क्रिकेट में दोनों खिलाड़ियों ने समान पारियों में 3,000, 4,000 और 5,000 रन पूरे किए हैं।

रिकॉर्ड

टेस्ट क्रिकेट में पुजारा के खास रिकॉर्ड

चेतेश्वर पुजारा टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज़ 1,000 रन पूरे करने वाले भारतीय बल्लेबाज़ हैं।

चेतेश्वर पुजारा टेस्ट क्रिकेट में तीन नंबर पर खेलते हुए अर्धशतक को शतक में बदलने वाले सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज़ हैं।

चेतेश्वर पुजारा ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज़ में विज़िटिंग बल्लेबाज़ द्वारा सबसे ज़्यादा गेंदो (1,245 गेंद) का सामना करने वाले बल्लेबाज़ हैं।

टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलियाई सरज़मीन पर सबसे बड़ी पारी खेलने वाले पुजारा एशिया के छठे बल्लेबाज़ हैं।

चेतेश्वर पुजारा का अंतर्राष्ट्रीय करियर

चेतेश्वर पुजारा के नाम 68 टेस्ट मैचों में 51.19 की औसत से 5,426 रन हैं। जिसमें 3 दोहरे शतक, 18 शतक और 20 अर्धशतक शामिल हैं। इसके साथ ही 5 वनडे में पुजारा के नाम 51 रन भी हैं।

खबर शेयर करें

क्रिकेट

भारतीय क्रिकेट टीम

क्रिकेट रिकॉर्ड्स

चेतेश्वर पुजारा

क्रिकेट विश्लेषण

खबर शेयर करें

अगली खबर