केरल के छात्र को मिला फेसबुक से सम्मान

टेक्नोलॉजी

05 Jun 2019

केरल के छात्र ने व्हाट्सऐप में खोजी बड़ी खामी, फेसबुक ने किया सम्मानित

केरल के एक इंजीनियरिंग छात्र केएस अनतंकृष्णा को फेसबुक के हाल ऑफ फेम में जगह मिली है।

दरअसल, अनंतकृष्णा ने फेसबुक के मालिकाना हक वाली व्हाट्सऐप में एक बड़ी खामी का पता लगाया था।

अलपुझा के रहने वाले 19 वर्षीय अनंतकृष्णा माउंट जियान इंजिनियरिंग कॉलेज में पढ़ते हैं।

लगभग दो महीने पहले उन्होंने व्हाट्सऐप की खामी की तरफ फेसबुक का ध्यान दिलाया था, जिसे दूर किया गया।

इसके बाद फेसबुक ने उन्हें सम्मानित किया है।

अनंतकृष्णा ने लगया था इस बग का पता

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अनंतकृष्णा ने पाया कि व्हाट्सऐप में एक बग है जिसकी वजह से एक यूजर दूसरे यूजर की व्हाट्सऐप पर मौजूद सारी फाइल्स हटा सकता है और उसको इस बात का पता भी नहीं चलेगा।

सम्मान

फेसबुक ने दिया यह सम्मान

फेसबुक ने दिया यह सम्मान

फेसबुक ने अनंतकृष्णा को लगभग 34,000 हजार रुपये का नकद ईनाम दिया और कंपनी के हाल ऑफ फेम में जगह देने का वादा किया है।

साथ ही उनका नाम कंपनी की इस साल की थैंक्स लिस्ट में किया गया है।

कंपनी ऐसा सम्मान उसकी ऐप में गंभीर खामी की ओर ध्यान दिलाने वाले लोगों को देती है। बता दें, पिछले कुछ समय से फेसबुक और व्हाट्सऐप में कई ऐसे बड़े बग आए हैं, जिन्होंने दुनिया का ध्यान आकर्षित किया है।

टेक्नोलॉजी की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

केरल पुलिस के साथ काम करते हैं अनंत

फेसबुक से सम्मान पाने वाले अनंतकृष्णा एथिकल हैकिंग में रिसर्च कर रहे हैं। अपनी पढ़ाई के साथ-साथ वो केरल पुलिस साइबरडोम में भी काम करते हैं। यह केरल पुलिस का रिसर्च और डेवलेपमेंट सेंटर है

बग

व्हाट्सऐप में आया था बग

हाल ही में व्हाट्सऐप में एक बड़ी खामी आई थी। इसके बाद कंपनी को आगे आकर अपने यूजर्स से ऐप अपडेट करने की अपील करनी पड़ी थी।

दरअसल, कंपनी के सिस्टम में गंभीर खामी आई है। हफ्तों से चल रही इस खामी के कारण हैकर्स व्हाट्सऐप वॉइस कॉल के जरिए यूजर्स के फोन में स्पाईवेयर इंजेक्ट कर सकते थे।

बताया गया कि यह मलिशियस कोड व्हाट्सऐप कॉल के जरिए एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर भेजा जा रहा था।

यह था बग

कॉल लॉग में नहीं दिखती कॉल

हैकर्स ने बड़ी चतुराई से इस स्पाईवेयर को तैयार किया था। जैसे ही ऐसी कोई कॉल आपके फोन पर आती है, यह तुरंत ही कॉल लॉग से गायब हो जाती।

इसका मतलब यह हुआ कि जब कॉल लॉग में आप इस कॉल की डिटेल देखने जाएंगे, यह आपको वहां से गायब मिलेगी।

इस वजह से आपको पता नहीं लग पाएगा कि यह कॉल कहां से आई। हाल के दिनों में व्हाट्सऐप पर आने वाला यह सबसे खतरनाक वायरस था।

खबर शेयर करें

फेसबुक

व्हाट्सऐप

केरल

खबर शेयर करें

अगली खबर