लोकसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग के चार ऐप्स

टेक्नोलॉजी

24 Apr 2019

चुनाव आयोग के ये मोबाइल ऐप्स लोकसभा चुनाव 2019 में कर रहे हैं लोगों की मदद

लोकसभा चुनाव शुरू हो चुके हैं और चुनावों के दौरान लोगों की मदद के लिए चुनाव आयोग ने कई सुविधाएँ मुहैया कराई हैं।

इसी के अंतर्गत मतदाताओं का अनुभव अच्छा हो, इसके लिए चुनाव आयोग ने नागरिकों को उनके मतदान केंद्रो, उनके निर्वाचन क्षेत्र और स्थान, यहाँ तक कि उम्मीदवारों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए कई मोबाइल ऐप लॉन्च किए हैं।

विकलांगों की मदद के लिए भी एक ऐप लॉन्च किया गया है।

आइए जानें।

'सुलभ चुनाव' को किया गया था मतदान दिवस के थीम के रूप में घोषित

स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव की भावना को बनाए रखने के लिए चुनाव आयोग ने 'सुलभ चुनाव' को इस वर्ष के राष्ट्रीय मतदाता दिवस के लिए थीम के रूप में घोषित किया था। यह हर साल 25 जनवरी को आयोजित किया जाता है।

ऐप 1

cVIGIL: करें आचार संहिता में उलंघन की रिपोर्ट

cVIGIL: करें आचार संहिता में उलंघन की रिपोर्ट

चुनाव आयोग ने cVIGIL को रोल आउट कर दिया है। यह ऐप नागरिकों को आचार संहिता में किसी उलंघन की रिपोर्ट करने और चुनाव अधिकारियों को तुरंत सूचित करने की अनुमति देती है।

इस ऐप को पहली बार जुलाई, 2018 में लॉन्च किया गया था और मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना के विधानसभा चुनावों में परीक्षण किया गया था।

पहली बार इसे पूरे भारत में लॉन्च किया गया है।

टेक्नोलॉजी की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

ऐप 2

Voter Helpline: चुनाव से जुड़े सभी सवालों के जवाब पाएँ

Voter Helpline को नागरिकों को सूचित करने और नैतिक मतदान निर्णय लेने में मदद करने के उद्देश्य से विकसित किया गया था।

इस ऐप से उपयोगकर्ता आसानी से उन सवालों के जवाब पा सकता है, जो वह जानना चाहते हैं ।

इससे आप मतदाता सूची में नाम है या नहीं, नाम और पते के परिवर्तन के मामले में उनके अवेदन की स्थिति की जाँच कर सकते हैं।

साथ ही बूथ स्तर के अधिकारियों की जानकारी भी पा सकते हैं।

गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर दोनों जगह उपलब्ध है ऐप

ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर दोनों पर उपलब्ध है। यह लोगों को पहली बार मतदान के लिए ख़ुद को पंजीकृत करने में भी मदद करती है। ऐप चुनाव आयोग के वेबसाइट पर प्रकाशित लेखों के लिए उपयोगकर्ताओं की पहुँच भी प्रदान करती है।

ऐप 3

Observer: अधिकारियों को दें मतदान केंद्रों पर किसी दुर्घटना की सूचना

Observer: अधिकारियों को दें मतदान  केंद्रों पर किसी दुर्घटना की सूचना

Observer पुलिस और व्यय पर्यवेक्षकों सहित पोल पर्यवेक्षकों को रिपोर्ट प्रस्तुत करने में मदद करती है।

इस ऐप के माध्यम से अधिकारियों को महत्वपूर्ण सूचनाएँ, अलर्ट और तत्काल संदेश भी मिलते हैं।

ऐप उपयोगकर्ता अधिकारियों की तैनाती की स्थिति भी बताती है और उनके आईडी कार्ड को डाउनलोड करने की भी सुविधा देती है।

Observer ऐप cVIGIL के साथ जुड़ी हुई है। इसपर अधिकारियों को मतदान केंद्रों पर दुर्घटना और अवैध गतिविधियों की जानकारी भी दी जा सकती है।

ऐप 4

PwD: दिव्यांगों की मदद के लिए ऐप

सूचना और पंजीकरण की प्रक्रिया को आसान बनाने के उद्देश्य से चुनाव आयोग ने PwD ऐप लॉन्च किया।

यह ऐप पहली बार विशेषरूप से दिव्यांग मतदाताओं के लिए या उन लोगों के लिए तैयार किया गया है जो मतदान के दिन सुविधाओं का लाभ लेना चाहते हैं।

मतदान केंद्रों पर गैर सरकारी संगठनों और आवासीय कल्याण संघों के सहयोग से मतदान अधिकारियों और स्वयंसेवकों को PwD के लिए प्रशिक्षित किया गया है।

खबर शेयर करें

चुनाव

मोबाइल ऐप्स

मतदाता

ऐप स्टोर

लोकसभा चुनाव

खबर शेयर करें

अगली खबर