प्रधानमंत्री मोदी का इशारों में चिदंबरम पर निशाना

राजनीति

12 Sep 2019

प्रधानमंत्री मोदी का इशारों में चिदंबरम पर निशाना, कहा- देश को लूटने वाले आज जेल में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को इशारों में तिहाड़ जेल में बंद कांग्रेस के नेता पी चिंदबरम पर निशाना साधा।

झारखंड के रांची में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश को लूटने वाले कुछ लोगों को जेल भेज दिया गया है, जबकि कुछ कतार में हैं।

उन्होंने कहा कि खुद को कानून से ऊपर समझने वाले लोग आज कोर्ट से जमानत की गुहार लगा रहे हैं।

बयान

मोदी बोले, देश को लूटने वाले कुछ जेल पहुंचे, कुछ कतार में

जनसभा में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "हमारा संकल्प था जनता को लूटने वालों को उनकी सही जगह पहुंचाने का। इस पर बहुत तेजी से काम हो रहा है और कुछ लोग अंदर चले भी गए हैं, जबकि कुछ कतार में खड़े हैं।"

उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने ये सोच लिया था कि वो देश के कानून से भी ऊपर उठ चुके हैं, देश की कोर्ट से भी ऊपर हैं, वो आज कोर्ट से जमानत की गुहार लगा रहे हैं।

100 दिन का काम बस ट्रेलर, पूरी पिक्चर अभी बाकी- प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री मोदी झारखंड विधानसभा की नई इमारत के उद्घाटन के लिए रांची पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिनों के काम पर भी बात की; उन्होंने कहा कि ये तो ट्रेलर है और पूरी पिक्चर अभी बाकी है।

राजनीति की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

तिहाड़ जेल

INX मीडिया केस में जेल में बंद हैं चिदंबरम

बता दें कि चिदंबरम INX मीडिया केस में तिहाड़ जेल में बंद हैं।

दिल्ली की एक कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में 19 सितंबर तक के लिए तिहाड़ जेल भेजा है।

उन्हें तिहाड़ की सात नंबर जेल के दूसरे वार्ड की कोठरी नंबर 15 में रखा गया है।

कोर्ट के आदेश पर सुरक्षा और वेस्टर्न टॉयलेट की व्यवस्था के अलावा चिदंबरम को जेल में कोई विशेष सुविधा नहीं दी जा रही है।

आरोप

चिदंबरम पर है नियमों के विरुद्ध विदेशी फंड हासिल करने की मंजूरी देने का आरोप

INX मीडिया केस में चिदंबरम पर पीटर और इंद्राणी मुखर्जी के INX मीडिया समूह को नियमों के विरुद्ध विदेश से 305 करोड़ रुपये का फंड हासिल करने में सहायता करने का आरोप है।

मामला 2007 का है और तब चिदंबरम वित्त मंत्री थे।

INX मीडिया को विदेशी फंड हासिल करने की मंजूरी देने के FIPB के सहमति प्रस्ताव पर चिदंबरम ने हस्ताक्षर किए थे।

उनके बेटे कार्ति चिदंबरम भी इस मामले में जेल जा चुके हैं।

जांच

CBI और ED में चल रहे दो अलग-अलग मामले

मामले में चिदंबरम पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) में दो अलग-अलग जांच चल रही हैं।

CBI ने चिदंबरम को 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था और 5 सितंबर तक वह उसकी कस्टडी में रहे।

वहीं ED मामले में 5 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए अग्रिम जमानत की उनकी याचिका खारिज कर दी और ED के उन्हें गिरफ्तार करने से रोक हटा दी।

उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट में जमानत की याचिका दायर की है।

खबर शेयर करें

झारखंड

नरेंद्र मोदी

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI)

तिहाड़ जेल

कार्ति चिदंबरम

इंद्राणी मुखर्जी

रांची

प्रवर्तन निदेशालय (ED)

प्रधानमंत्री मोदी

INX मीडिया केस

खबर शेयर करें

अगली खबर