राहुल के ट्वीट पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने

राजनीति

28 Aug 2019

जम्मू-कश्मीर मुद्दा: राहुल के बयान पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने, राज्यपाल ने बताई राज्य की हालत

कश्मीर को भारत का आंतरिक मामला बताने वाले कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के ट्वीट पर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं।

भाजपा ने राहुल के बयान को यू-टर्न बताते हुए कहा है कि राहुल ने अपने "गैरजिम्मेदाराना बयानों" से देश का अपमान किया है।

वहीं, कांग्रेस का कहना है कि भाजपा हर चीज को केवल राजनीतिक नजरिए से देखती है और कांग्रेस ने पाकिस्तान से मानवाधिकारों और लोकतंत्र को लेकर सवाल किए हैं।

ट्वीट

क्या कहा था राहुल ने?

दरअसल, जम्मू-कश्मीर के हालात पर संयुक्त राष्ट्र (UN) में दायर अपनी याचिका में पाकिस्तान ने राहुल गांधी के बयान का जिक्र किया है।

इन रिपोर्ट्स के बीच राहुल ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए लिखा, "मैं इस सरकार के साथ कई मुद्दों पर असहमति रखता हूं। लेकिन मैं ये पूरी तरह से स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और इसमें पाकिस्तान या अन्य किसी बाहरी देश को दखल देने का कोई अधिकार नहीं है।"

पाकिस्तान पर निशाना

राहुल ने कहा, कश्मीर में आतंक फैलाता है पाकिस्तान

राहुल ने पाकिस्तान पर कश्मीर में आतंक फैलाने का आरोप लगाया।

उन्होंने लिखा, "जम्मू-कश्मीर में हिंसा है। वहां हिंसा है क्योंकि पाकिस्तान द्वारा इसे उकसाया जाता है और इसका समर्थन किया जाता है, जोकि पूरी दुनिया में आतंकवाद के मुख्य समर्थक के तौर पर जाना जाता है।"

कांग्रेस ने भी जम्मू, कश्मीर और लद्दाख को भारत का अभिन्न अंग बताके हुए अपने बयान में कहा कि पाकिस्तान अपने झूठ को साबित करने के लिए राहुल का नाम घसीट रहा है।

राजनीति की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

इस ट्वीट पर हो रही राजनीति

प्रतिक्रिया

भाजपा ने कहा, देशभर से विरोध के कारण राहुल ने लिया यू-टर्न

लेकिन राहुल का ये ट्वीट केंद्र शासित भाजपा के गले नहीं उतरा और पार्टी ने इसका स्वागत करने की बजाय राहुल पर निशाना साधा।

पार्टी प्रवक्ता प्रकाश जावडेकर ने कहा कि राहुल को देशभर से विरोध के कारण जम्मू-कश्मीर में हिंसा पर अपने पुराने बयान से पलटना पड़ा।

उन्होंने कहा कि राहुल ने अपने "गैरजिम्मेदाराना" बयानों से देश का अपमान किया है और पाकिस्तान ने इनका इस्तेमाल UN में अपनी याचिका में किया।

बयान

जावडेकर बोले, कश्मीर में सब-कुछ ठीक

केंद्रीय मंत्री जावडेकर ने आगे कहा, "राहुल ने कहा था कि जम्मू एवं कश्मीर में सही नहीं हो रहा है, लोगों के मरने की ख़बरें आ रही हैं। आप (राहुल) गलत हैं। जम्मू एवं कश्मीर में सब ठीक है, कोई हिंसा नहीं हो रही है।"

राहुल पर लोगों को भड़काने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, "राहुल की कश्मीर जाने की कोशिश भी लोगों को भड़काने के लिए की गई थी और उन्हें और कांग्रेस माफी मांगनी चाहिए।"

सवाल

कांग्रेस ने पूछा, और कितना गिरेगी भाजपा?

भाजपा के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस ने कहा कि भाजपा और कितना गिरेगा और अपना राजनीतिक स्तर और कितना गिराएगी।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस ने एक कदम आगे बढ़कर कहा कि पाकिस्तान को PoK, गिलगिट और बालटिस्तान में जिस तरह आए दिन मानवाधिकारों का हनन हो रहा है, उसे पूरी दुनिया को जवाब देना चाहिए।

इस बीच सुरजेवाला पाकिस्तान के अत्याचारों पर खुलकर बोले।

राजनीतिक बयानबाजी

सुरजेवाला ने जावडेकर को बताया 'मिस इन्फॉरमेशन मिनिस्टर'

सुरजेवाला ने कहा कि राहुल ने अपने बयान में यह साफ कहा है कि कश्‍मीर का मामला भारत का अंदरूनी मामला है और इसमें किसी देश के दखल की जरूरत नहीं है।

जावडेकर पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वह अब 'मिस इन्फॉरमेशन मिनिस्टर' बनकर रह गए हैं, जिनका काम लोगों को गलत सूचना देना रह गया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा को ओछी राजनीति छोड़कर कांग्रेस से माफी मांगनी चाहिए।

जम्मू-कश्मीर राज्यपाल

राज्यपाल बोले, हमसे ज्यादा पाकिस्तान और आतंकवादी कर रहे फोन और इंटरनेट का उपयोग

कांग्रेस और भाजपा के इस टकराव के बीच जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राज्य के हालात की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि फोन और इंटरनेट का उपयोग हम कम और आतंकवादी और पाकिस्तान ज्यादा करता है।

उन्होंने कहा, "लोगों को इकट्ठा करने और बंद के लिए भी इनका इस्तेमाल होता है। ये एक तरह से हमारे खिलाफ हथियार है, इसलिए हमने इसको रोका हुआ है और धीरे-धीरे हम उसको खोल देंगे।।"

रोजगार

राज्यपाल ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन में निकालीं 50,000 नौकरियां

राज्यपाल मलिक ने बताया कि कश्मीर के कुपवाड़ा और हंदवाड़ा जिले में फोन सेवाओं को शुरू किया जा रहा है और बाकी जिलों में भी फोन सेवाएं जल्द शुरू हो जाएंगी।

उन्होंने जम्मू-कश्मीर के युवाओं को नौकरियों की भी सौगात दी।

राज्य प्रशासन में 50,000 नौकरियों की घोषणा करते हुए उन्होंने युवाओं से पूरे जोश के साथ इनमें शामिल होने की अपील की।

उन्होंने बताया कि भर्तियां निकाल कर अगले 2-3 महीनों में इन पदों को भरा जाएगा।

बयान

"कश्मीर में सब ठीक, अब तक एक भी व्यक्ति की मौत नहीं"

इस दौरान राज्यपाल मलिक कश्मीर में सब कुछ ठीक होने और पूरी पाबंदी के दौरान एक भी व्यक्ति की मौत नहीं होने की बात भी कही।

उन्होंने कहा, "हर कश्मीरी जिंदगी हमारे लिए बहुमूल्य है। हम एक भी जिदंगी की हानि नहीं चाहते। किसी भी नागरिक की मौत नहीं हुई है। कुछ लोग हिंसक हुए वो घायल हुए हैं, लेकिन उनके भी कमर के नीचे चोटें हैं।"

वह पहले भी कश्मीर में सब सामान्य होने की बात कह चुके हैं।

खबर शेयर करें

भारत

पाकिस्तान

भारतीय जनता पार्टी

PoK

राहुल गांधी

कांग्रेस

प्रकाश जावड़ेकर

राजनीति

संयुक्त राष्ट्र (UN)

खबर शेयर करें

अगली खबर