भाजपा नेताओं की मौत पर प्रज्ञा ठाकुर का अजीबोगरीब बयान

राजनीति

26 Aug 2019

विपक्ष कर रहा 'मारक शक्ति' का प्रयोग, इसलिए हो रहा भाजपा नेताओं का निधन- प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल से भारतीय जनता पार्टी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक ऐसी बात कही है जिसे सुनकर आप अपना माथा पीट लेंगे।

प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है कि कुछ दिन पहले एक महाराज जी ने उनसे कहा था कि भाजपा को नुकसान पहुंचाने के लिए विपक्ष एक 'मारक शक्ति' का प्रयोग कर रहा है।

उन्होंने कहा कि इसी कारण एक के बाद एक भाजपा के शीर्ष नेताओं का निधन हो रहा है।

बयान

"महाराज ने कहा बहुत बुरा समय है, साधना कम मत करना"

समाचार एजेंसी ANI ने प्रज्ञा का एक वीडियो डाला है, जिसमें उन्हें ये कहते हुए सुना जा सकता है।

एक कार्यक्रम में वह कह रही हैं, "एक महाराज जी आए उन्होंने मुझसे कहा कि आप अपनी साधना कम मत करना। साधना का समय बढ़ाते रहना... क्योंकि बहुत बुरा समय है और जो विपक्ष है वो एक ऐसा कार्य कर रहा है, ऐसी मारक शक्ति का प्रयोग कर रहा है... वो भारतीय जनता पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए है।"

आशंका

प्रज्ञा ने कहा- अब लगता है कहीं ये सच तो नहीं

प्रज्ञा कह रही हैं कि ये 'मारक शक्ति' भाजपा को संभालने वाले लोगों पर असर करेगी।

वह आगे कहती हैं, "उन महाराज जी की बात को मैंने इनती भीड़ में चलते-चलते सुना और भूल गई। परंतु आज जब मैं ये देखती हूं कि वास्तव में हमारे शीर्ष नेतृत्व, कभी सुषमा जी, बाबूलाल जी, फिर जेटली जी और ऐसे क्रमश: जो हमारे नेता पीड़ा सहते-सहते हुए जाते हैं, मन में एक बार आया कि कहीं ये सच तो नहीं।"

राजनीति की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

"हमारे बीच से असमय जा रहा नेतृत्व"

प्रज्ञा कह रही हैं, "ये आज भी प्रश्ववाचक है। परंतु सच ये है कि हमारे बीच से हमारा नेतृत्व निरंतर जा रहा है, असमय जा रहा है।" वीडियो में पीछे मालाओं से सजी अरुण जेटली और बाबूलाल गौड़ की तस्वीरों को देखा जा सकता है।

खुद सुनें क्या कह रही हैं प्रज्ञा ठाकुर

भाजपा नेताओं का निधन

एक महीने के अंदर हुआ सुषमा, बाबूलाल और जेटली का निधन

जानकारी के लिए बता दें कि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्वराज का 6 अगस्त को दिल का दौर पड़ने से निधन हो गया था।

इसके बाद 21 अगस्त को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके बाबूलाल का 89 वर्ष की उम्र में लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया था।

वहीं 24 अगस्त को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का भी देहांत हो गया। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे।

विवादित बयान

पहले भी विवादित बयान दे चुकी हैं प्रज्ञा ठाकुर

मालेगांव ब्लास्ट केस में आतंकवाद के आरोपों का सामना कर रहीं प्रज्ञा ठाकुर का ये बयान उनकी पार्टी के लिए मुसीबत का कारण बन सकता है।

वह इससे पहले भी ऐसे विवादित बयान दे चुकी हैं, जिनके लिए उनकी तीखी आलोचना हुई थी।

लोकसभा चुनाव में प्रचार के समय उन्होंने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था।

उनके इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें मन से कभी माफ न करने की बात कही थी।

खबर शेयर करें

मध्य प्रदेश

नरेंद्र मोदी

भारतीय जनता पार्टी

सुषमा स्वराज

भोपाल

मालेगांव

साध्वी प्रज्ञा

अरुण जेटली

महात्मा गांधी

लोकसभा चुनाव

खबर शेयर करें

अगली खबर