रोड शो में हिंसा को लेकर आमने-सामने भाजपा और तृणमूल

राजनीति

15 May 2019

भाजपा अध्यक्ष ने हिंसा के पीछे बताया ममता का हाथ, TMC बोली- झूठे हैं अमित शाह

कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में हुई हिंसा के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ममता बनर्जी को हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

शाह ने मीडिया के सामने फोटो पेश करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी है।

उन्होंने कहा की भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता कॉलेज में नहीं घुसे थे। इस पर तृणमूल कांग्रेस ने भी पलटवार किया है।

आरोप

अमित शाह ने लगाए ये आरोप

शाह ने कहा कि रोड शो से पहले TMC की बैचेनी साफ दिख रही थी। उन्होंने कहा, "सुबह मेरे और मोदी जी के पोस्टर फाड़े गए, तब भी भाजपा कार्यकर्ता चुप थे। भीड़ के बावजूद रैली शांतिपूर्ण चल रही थी।"

हिंसा के बात करते हुए शाह ने कहा कि वो भाग्यशाली हैं कि जिंदा निकल आए। अगर CRPF नहीं होती तो उनका बचना मुश्किल हो सकता था।

उन्होंने निष्पक्ष एजेंसी से इसकी जांच कराने की मांग की है।

पलटवार

TMC ने अमित शाह को बताया 'झूठा'

अमित शाह के आरोपों पर TMC ने पलटवार किया है।

पार्टी ने कहा कि उसके पास इस बात के वीडियो हैं, जिसमें दिख रहा है कि भाजपा ने हिंसा फैलाई और ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ा।

पार्टी नेता डेरेक'ओ ब्रायन ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अमित शाह झूठ बोल रहे हैं और इस बात के उनके पास वीडियो प्रूफ हैं।

उन्होंने कहा कि मूर्ति तोड़ने वाले गुंडों को उत्तर प्रदेश से लाया गया था।

राजनीति की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

शिकायत

चुनाव आयोग को वीडियो सौंपेगी TMC

डेरेक ने कहा कि वीडियो में दिख रहा है कि कुछ गुंडे दीवार फांदकर कॉलेज में घुस रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने रोड शो में आने वाले लोगों से हथियारों और रॉड के साथ आने को कहा गया था।

डेरेक ने बताया कि पार्टी इन वीडियो को चुनाव आयोग के पास ले जाएगी और इनकी आधिकारिक पुष्टि की जाएगी।

उन्होंने TMC कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा के पोस्टर फाड़े जाने की घटना से भी इनकार किया।

विरोध प्रदर्शन

ममता बनर्जी समेत TMC नेताओं ने बदली अपनी प्रोफाइल पिक्चर

मंगलवार को हुई हिंसा में विद्यासागर की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया गया है। इसके लिए दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप लगा रही है।

वहीं बुधवार को ममता बनर्जी समेत TMC के सभी नेताओं ने ट्विटर और फेसबुक पर अपनी प्रोफाइल पिक्चर को हटाकर विद्यासागर की तस्वीर लगा ली है।

पार्टी के ट्विटर और फेसबुक पेज पर विद्यासागर की तस्वीर लगाई गई है।

पार्टी ने कहा कि वह हिंसा के विरोध स्वरूप ऐसा कर रही है।

मामला

भाजपा ने तृणमूल पर लगाए थे हिंसा के आरोप

मंगलवार को अमित शाह को कोलकाता में रोड शो था। इससे पहले खबरें आई थीं कि कोलकाता की सड़कों पर लगे भाजपा के पोस्टर हटा दिये गए हैं।

भाजपा का आरोप है कि रोड शो के दौरान तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी की। इसके बाद कॉलेज स्ट्रीट के पास हुई हिंसा में भीड़ ने तीन बाइकों में आग लगा दी।

अमित शाह ने कहा कि TMC कार्यकर्ताओं ने उनके रोड शो पर ईंटें और पत्थर फेंके।

अंतिम चरण में डाले जाएंगे राज्य की नौ सीटों पर वोट

अंतिम चरण के लिए राज्य की नौ सीटों पर वोटिंग होनी है। ये सीटें हैं- जयनगर, दमदम, बारासात, बशीरहाट, डायमंड हार्बर, मथुरापुर, कोलकाता दक्षिण, कोलकाता उत्तर और जाधवपुर। इन सीटों के लिए भाजपा और TMC पूरा जोर लगा रही है।

नुकसान

ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी

हिंसा के दौरान उपद्रवियों ने विद्यासागर कॉलेज में ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को भी तोड़ दिया।

ममता ने बाद में विद्यासागर कॉलेज का दौरा किया और उन्होंने अपने हाथ से मूर्ति के टुकड़े उठाए।

साथ ही TMC ने मूर्ति तोड़े जाने को लेकर भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान किया है।

बता देें, ईश्वर चंद्र विद्यासागर बंगाल पुनर्जागरण के एक प्रमुख व्यक्ति थे। उन्हें विधवाओं पर होने वाले अत्याचारों और अन्यायों से लड़ने के लिए याद किया जाता है।

पश्चिम बंगाल

बेहद महत्वपूर्ण बन गया है पश्चिम बंगाल

भाजपा और TMC के इस तीखे टकराव का कारण इस लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल का बेहद महत्वपूर्ण राज्य बन कर उभरना है।

उत्तर भारत में सीटों के नुकसान की संभावना को देखते हुए भाजपा यहां ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतना चाहती है और उसका लक्ष्य राज्य की 42 में से 20 सीट जीतने पर है।

वहीं, ममता भी राज्य में बेहद शानदार प्रदर्शन करना चाहती है, ताकि गठबंधन की सरकार बनने पर वह प्रधानमंत्री पद पर दावा कर सकें।

खबर शेयर करें

पश्चिम बंगाल

कोलकाता

ममता बनर्जी

अमित शाह

लोकसभा चुनाव

खबर शेयर करें

अगली खबर