दिल्ली में नहीं होगा AAP और कांग्रेस का गठबंधन

राजनीति

05 Mar 2019

राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद शीला दीक्षित का बयान, AAP से नहीं करेंगे गठबंधन

पुलवामा आतंकी हमले और उसके बाद हुई एयर स्ट्राइक के बाद दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस के बीच गठबंधन की अटकलें फिर से तेज होने लगी थीं।

अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित ने ऐलान किया है कि दिल्ली में AAP के साथ कोई गठबंधन नहीं होगा।

बता दें कि भाजपा विरोधी वोटों का बंटवारा रोकने के लिए AAP कांग्रेस से गठबंधन करना चाहती थी।

शीला दीक्षित

शुरु से कांग्रेस-AAP गठबंधन के खिलाफ रही हैं शीला दीक्षित

शुरु से कांग्रेस-AAP गठबंधन के खिलाफ रही हैं शीला दीक्षित

मंगलवार का राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद दिल्ली की 3 बार की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने AAP के साथ गठबंधन की संभावनाओं को खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा, "सर्वसम्मत से यह तय किया गया है कि दिल्ली में कोई गठबंधन नहीं होगा।"

बता दें कि शीला शुरु से ही दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ने की पक्षधर रही हैं। हालांकि, उन्होंने आखिरी फैसले की जिम्मेदारी राहुल गांधी के कंधों पर डाल दी थी।

दिल्ली में कोई गठंबधन नहीं- शीला दीक्षित

राजनीति की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

उम्मीदवारी

AAP ने उतारे छह उम्मीदवार

बता दें कि कांग्रेस को मनाने की हर कोशिश नाकाम होने के बाद AAP ने हाल ही में दिल्ली की कुल 7 लोकसभा सीटों में से 6 पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए थे।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सार्वजनिक तौर पर कहा था कि वह कांग्रेस को गठबंधन के लिए मनाते-मनाते थक गए हैं, लेकिन वह तैयार नहीं है।

दिल्ली के अलावा AAP पंजाब में भी कांग्रेस से गठबंधन करना चाहती थी।

कांग्रेस और AAP के गठबंधन के लिए जोर लगा रहे थे ये नेता

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता शरद पवार और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, कांग्रेस और AAP को साथ लाने की कोशिश में लगे हुए थे। इन दोनों नेताओं ने कुछ दिन पहले केजरीवाल और राहुल से मुलाकात की थी।

सियासी माहौल

एयर स्ट्राइक के बाद बदला सियासी माहौल

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान में आतंकी हमलों पर भारत द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद देश का सियासी माहौल बदल गया है।

कुछ दिन पहले बैकफुट पर दिख रही भाजपा के नेता एयर स्ट्राइक का सियासी फायदा उठाने की कोशिश में लगे हैं।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने अपने भाषण में दावा किया था कि एयर स्ट्राइक में 250 से ज्यादा आतंकी मारे गए थे।

वहीं येदियुरप्पा ने कहा था कि एयर स्ट्राइक से भाजपा को फायदा मिलेगा।

राजनीति

महागठबंधन पर नए सिरे से विचार

महागठबंधन पर नए सिरे से विचार

एयर स्ट्राइक के बाद मजूबत दिख रही भाजपा को रोकने के लिए विपक्षी पार्टियां अपनी रणनीति पर फिर विचार कर रही हैं।

इस बदलते परिदृश्य के कारण दिल्ली में AAP और आप के गठबंधन की संभावनाएं एक बार फिर से जीवित हो गई थीं।

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कांग्रेस से गठबंधन करने की अटकलें भी चल रही हैं।

CPM ने भी कांग्रेस के साथ बंगाल की 6 सीटों पर समझौते की बात कही है।

खबर शेयर करें

दिल्ली

आम आदमी पार्टी

राहुल गांधी

शरद पवार

कांग्रेस

खबर शेयर करें

अगली खबर