बीमारियों से बचने के लिए ध्यान में रखें ये बातें

लाइफस्टाइल

11 Jul 2019

महिलाएं बीमारियों से बचने के लिए ध्यान में रखें ये जरूरी बातें

महिलाओं के कन्धों पर कई जिम्मेदारियाँ होती हैं, जिसकी वजह से वह ख़ुद का ध्यान नहीं रख पाती हैं।

वहीं, अगर शादीशुदा महिला कामकाजी है, तो वो और ज़्यादा व्यस्त हो जाती है एवं वह न समय पर खाती है और न समय पर सोती है। इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।

ज़्यादातर महिलाएँ थाइराइड, ख़ून की कमी और बढ़ते वजन से परेशान हैं।

ऐसे में कुछ बातों का ध्यान रखकर वो ख़ुद को स्वस्थ रख सकती हैं।

#1

समय पर खाना, फल और गुनगुना पानी

समय पर खाना, फल और गुनगुना पानी

स्वस्थ रहने के लिए सबसे ज़रूरी है समय पर खाना। बेवक्त खाने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए अगर आप चाहती हैं कि आप स्वस्थ रहें तो समय पर खाएँ।

इसके अलावा ज़्यादा नहीं तो कम से कम रोज़ाना एक फल का सेवन ज़रूर करें, इससे शरीर अंदर से मज़बूत होता है।

साथ ही ख़ुद को ऊर्जावान बनाने के लिए सुबह गुनगुना पानी ज़रूर पीएँ और सैर पर जाएँ एवं एक्सरसाइज करें।

पीरियड्स की समस्या से ऐसे पाएँ छुटकारा

कई महिलाओं को पीरियड्स खुलकर और समय पर नहीं आते हैं, इसके लिए गाजर का जूस पीएँ। इसके अलावा अशोक पेड़ की 90 ग्राम छाल को 30 मिलीलीटर पानी में लगभग 10 मिनट तक उबालें और छानकर दिन में 2-3 बार पीएँ।

लाइफस्टाइल की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

#3

जंक फ़ूड से दूरी और तनाव एवं थकान से मुक्ति

अगर वजन नियंत्रित करना चाहती हैं, तो बाहर का ऑयली खाना, जंक फ़ूड से दूरी बनाएँ। उसकी जगह हरी सब्ज़ियाँ और फाइबर फ़ूड खाएँ और प्राणायाम, हलासन को अपनी रूटीन का हिस्सा बनाएँ।

तनाव से बचने के लिए मेडिटेशन का सहारा लें और योगासन करें।

वहीं, थकान की वजह से कई महिलाओं को नींद नहीं आती है। इसके लिए गुनगुने पानी में नमक डालकर नहाएँ, पलभर में आपकी थकान दूर हो जाएगी।

#4

आयरन और फोलिक एसिड का सेवन

शरीर में आयरन की कमी होने पर ख़ून की कमी के साथ ही त्वचा और बाल भी ख़राब होने लगते हैं। इसलिए आयरन से भरपूर फ़ूड्स खाएँ। इससे त्वचा पर झुर्रियाँ और झाइयाँ नहीं पड़ेंगी।

वहीं, फोलिक एसिड की कमी से महिलाओं के जोड़ों में दर्द, हड्डियों की कमज़ोरी और ख़ून की कमी होने लगती है। ख़ासतौर से गर्भवती महिलाओं को ये तत्व मिलना बहुत ज़रूरी है। इसे पूरा करने के लिए दालें और सब्ज़ियाँ खाएँ।

#5

प्राइवेट पार्ट की सफ़ाई, ब्रेस्ट और बॉडी मसाज

प्राइवेट पार्ट की सफ़ाई, ब्रेस्ट और बॉडी मसाज

प्राइवेट पार्ट में गंदगी होने से इंफ़ेक्शन हो जाता है। इससे बचने के लिए नियमित उसकी सफ़ाई करें। प्राइवेट पार्ट को गुनगुने पानी और टिशू पेपर से साफ़ करें।

साथ ही ब्रेस्ट की सप्ताह में एक बार ऑलिव ऑयल से मसाज करें, इससे रक्त संचार सही रहता है और ब्रेस्ट का ढीलापन और कई बीमारियों का ख़तरा कम होता है।

इसके अलावा थकान से बचने के लिए महिलाएँ सप्ताह में एक बार ऑयल से बॉडी मसाज ज़रूर करवाएँ।

समय-समय पर करवाएँ जाँच

इन सबके अलावा समय-समय पर स्वास्थ्य की जाँच ज़रूर करवाती रहें, ताकि समय रहते समस्या का हल निकाला जा सके। स्वस्थ रहने के लिए पौष्टिक आहार के साथ ख़ुश रहना भी ज़रूरी है। इसलिए, अपने लिए थोड़ा समय ज़रूर निकालें।

खबर शेयर करें

स्वास्थ्य

बीमारी

स्वास्थ्य देखभाल

स्वास्थ्य बाइट्स

खबर शेयर करें

अगली खबर