दिल्ली में गाँजा पीने वालों की संख्या बढ़ी

देश

10 Sep 2019

गाँजे की खपत के मामले में दिल्ली बना दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा शहर

देश की राजधानी दिल्ली एक बार फिर दुनिया की नज़रों में आ गया है। दिल्ली की चर्चा इस समय पूरी दुनिया में हो रही है। इसके पीछे कोई उपलब्धि नहीं बल्कि गाँजे की खपत है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि दिल्ली ने गाँजे की खपत के मामले में दुनिया में तीसरा स्थान हासिल किया है।

इस मामले में पहले स्थान पर न्यूयॉर्क और दूसरे स्थान पर पाकिस्तान का कराची शहर है।

आइए इसके बारे में विस्तार से जानें।

दिल्ली

दिल्ली के लोगों ने 2018 में किया 38.2 टन गाँजे का सेवन

दिल्ली के लोगों ने 2018 में किया 38.2 टन गाँजे का सेवन

प्राप्त जानकारी के अनुसार, दिल्ली के लोगों ने साल 2018 में 38.2 टन गाँजे का सेवन किया।

बता दें कि दिल्ली में गाँजे की इतनी मात्रा की खपत तब हुई है, जबकि यहाँ इसका सेवन कानूनी रूप से वैध नहीं है।

सोचिए अगर दिल्ली में गाँजा कानूनी रूप से वैध होता, तो दिल्ली की क्या हालत होती। ऐसे में शायद दिल्ली दुनिया का सबसे ज़्यादा गाँजा खपत करने वाला शहर बन जाता।

रिपोर्ट

ABCD नाम की जर्मन संस्था ने जारी की रिपोर्ट

न्यूयॉर्क में जहाँ 2018 में 77.4 टन गाँजे का सेवन किया गया, वहीं कराची में 42 टन गाँजे का इस्तेमाल किया गया था।

दिल्ली के बाद गाँजे के सेवन में देश का दूसरा और विश्व स्तर पर छठा सबसे बड़ा शहर मुंबई है। यहाँ के लोगों ने 32.4 टन गाँजे का सेवन किया।

ये रिपोर्ट 2018 की है, जिसमें विश्व के 120 शहरों को शामिल किया गया था। रिपोर्ट को ABCD नाम की जर्मनी स्थित संस्था ने जारी किया है।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

राजस्व

दिल्ली में गाँजा वैध करने पर प्राप्त हो सकता है 725 करोड़ रुपये का राजस्व

दिल्ली में गाँजा वैध करने पर प्राप्त हो सकता है 725 करोड़ रुपये का राजस्व

आँकड़ों के अनुसार, अगर दिल्ली में गाँजे का सेवन वैध कर दिया जाए, तो इससे सरकार को 725 करोड़ रुपये का सालाना राजस्व प्राप्त हो सकता है।

इसी तरह अगर मुंबई में गाँजे का सेवन वैध कर दिया जाए, तो 641 करोड़ रुपये के राजस्व की प्राप्ति हो सकती है।

बता दें कि यह अनुमान सिगरेट की बिक्री पर लगाए जाने वाले टैक्स के आधार पर लगाया गया है। भारत में नशीली वस्तुओं पर सबसे ज़्यादा टैक्स लगाया जाता है।

सूची

भारत के दो शहर दिल्ली और मुंबई टॉप टेन सूची में शामिल

दिल्ली, मुंबई, कराची, लंदन, मॉस्को जैसे शहरों में गाँजे का सेवन कानूनी रूप से वैध नहीं है। वहीं, कनाडा की राजधानी टोरंटो में गाँजे के सेवन को पिछले साल ही वैध किया गया था।

गाँजे के सेवन में टॉप टेन शहरों की बात करें तो इसमें सबसे अधिक तीन शहर न्यूयॉर्क, लॉस एंजेल्स और शिकागो अमेरिका के हैं, जबकि भारत दूसरे स्थान पर है।

यहाँ के दो शहर दिल्ली और मुंबई टॉप टेन सूची में शामिल हैं।

टोक्यो में मिलता है दुनिया में सबसे महंगा गाँजा

अमेरिका में दुनिया में सबसे सस्ता गाँजा मिलता है, वहीं दिल्ली और मुंबई दुनिया के 10वें और 11वें शहर हैं, जहाँ सबसे सस्ता गाँजा मिलता है। दुनिया में सबसे महंगा गाँजा टोक्यो में मिलता है। वहाँ एक ग्राम गाँजे की कीमत लगभग 2,300 रुपये है।

खबर शेयर करें

भारत

दिल्ली

न्यूयॉर्क शहर

अजब-गजब खबरें

खबर शेयर करें

अगली खबर