बिहार पुलिस की इस मुहिम की हो रही तारीफ

देश

10 Sep 2019

बिना हेलमेट सफर करने पर यहां पुलिस नहीं लगाती जुर्माना, करती है यह काम

नए मोटर वाहन अधिनियम के तहत ट्रैफिक नियम तोड़ने पर भारी जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

इसके तहत बिना हेलमेट पहने दोपहिया वाहन चलाने वाले लोगों का एक हजार रुपये का चालान किया जा रहा है।

हालांकि, बिहार के मोतिहारी जिले में पुलिस बिना हेलमेट वाले दोपहिया ड्राइवरों को बिना जुर्माना लगाये जाने दे रही है और उसके इस तरीके की तारीफ भी हो रही है।

सुनने में भले ही यह अजीब लगे, लेकिन यह सच है।

तरीका

चालान काटने के बजाय दिलवा रहे हेलमेट

यहां पुलिस भले ही नियम तोड़ने वाले लोगों पर जुर्माना नहीं लगा रही है, लेकिन इतना जरूर कर रही है कि नियम तोड़ने वाले लोगों को उनकी गलती की अहसास हो और वो दोबारा ऐसा न करें।

यहां कोई व्यक्ति अगर बिना हेलमेट पहने या बिना इंश्योरेंस वाला वाहन चलाता है तो पुलिसकर्मी उसे तुरंत हेलमेट और इंश्योरेंस बेचने वाले वेंडर के पास भेज देते हैं।

इस विचार के पीछे वहां के SHO मुकेश चंद्र कुंवर का दिमाग है।

विचार

मुकेश के मन में ऐसे आया विचार

मुकेश ने समाचार एजेंसी PTI से बात करते हुए कहा, "मैंने कुछ हेलमेट बेचने वाले और इंश्योरेंस एजेंट से बात की और उन्हें चेकिंग प्वाइंट के पास अपना सिस्टम सेटअप करने को कहा। हम लोगों पर जुर्माना नहीं लगा रहे हैं, लेकिन उन्हें अच्छी गुणवत्ता खरीदने और वाहन का इंश्योरेंस करवाने के लिए कह रहे हैं।"

मुकेश ने कहा कि केवल जुर्माना लगा देने से लोग नियमों का पालन नहीं करेंगे। वो भविष्य में फिर ऐसी गलतियां करेंगे।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

लोगों का भरोसा जीतने का कोशिश

मुकेश ने कि कुछ लोग सोचते हैं कि नए मोटर वाहन अधिनियम से ट्रैफिक पुलिस को वसूली करने की छूट मिल गई है। अपने इस कदम से वो लोगों की इस धारणा को तोड़कर भरोसा बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

बयान

दूसरे नियम तोड़ने वालों से सख्ती से पेश आते हैं मुकेश

एक तरफ मुकेश हेलमेट और इंश्योरेंस के बिना सफर करने वाले लोगों को उनकी गलती बताकर जाने दे रहे हैं, वहीं दूसरे नियमों का उल्लंघन करने वालों से वो सख्ती से पेश आते हैं।

उन्होंने बताया, "अगर कोई व्यक्ति खराब तरीके से या शराब पीकर वाहन चलाता है तो हम उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हैं।"

बता दें, 1 सितंबर से देश के कई राज्यों में नया मोटर वाहन अधिनियम लागू हुआ है।

जुर्माना

नए अधिनियम के तहत लग रहा है भारी जुर्माना

नया अधिनियम लागू होने के बाद ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वाले चालकों का हजारों रुपये का चालान कट रहा है।

हाल ही में ओडिशा में एक ट्रक ड्राइवर का 86,000 रुपये का चालान किया गया था। नया कानून लागू होने के बाद संभवत: देश में किसी ड्राइवर पर लगा यह सर्वाधिक जुर्माना है।

गुरुग्राम पुलिस ने एक ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक का 59,000 रुपये का चालान काटा था। गुरुग्राम में ही पुलिस ने एक स्कूटी चालक का 23,000 का जुर्माना लगाया था।

प्रावधान

नये कानून में बढ़ाया गया है जुर्माना

नए मोटर वाहन कानून के तहत अगर किसी को बिना लाइसेंस के ड्राइविंग करते हुए पकड़ा जाता है तो उस पर 5,000 रुपये का जुर्माना लगेगा। पहले इसके लिए 500 रुपये का जुर्माना होता था।

नए कानून के तहत शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 2,000 रुपये की बजाय 10,000 रुपये जुर्माना लगेगा।

रैश ड्राइविंग करने पर जुर्माना 1,000 रुपये से बढ़ाकर 5,000 रुपये कर दिया गया है। सीट बेल्ट न पहनने पर अब 1,000 रुपये का जुर्माना लगेगा।

खबर शेयर करें

ओडिशा

बिहार

हरियाणा

ट्रैफ़िक पुलिस

ट्रैफ़िक नियम

खबर शेयर करें

अगली खबर