तिहाड़ जेल में कुछ ऐसी रहेगी चिदंबरम की दिनचर्या

देश

06 Sep 2019

तिहाड़ की जेल नंबर 7 में बंद चिदंबरम, नहीं मिलेंगी विशेष सुविधाएं, जानें कैसी रहेगी दिनचर्या

INX मीडिया केस में 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल भेजे गए कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को जेल में कोई विशेष सुविधा नहीं दी जाएगी।

आम कैदियों की तरह वह जेल की लाइब्रेरी जा सकेंगे और निश्चित समय के लिए टीवी भी देख सकेंगे।

उन्हें अन्य कैदियों की तरह जेल की दिनचर्या का पालन करना होगा।

हालांकि कोर्ट ने उनकी सुरक्षा को देखते हुए जो अतिरिक्त सुविधाएं उन्हें देने का आदेश दिया था, उसका पालन किया जाएगा।

कोर्ट का आदेश

गुरुवार देर शाम चिदंबरम को लाया गया तिहाड़ जेल

INX मीडिया केस से संबंधित केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के मामले में गुरुवार को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में 19 सितंबर तक के लिए चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेजे जाने का आदेश दिया था।

कोर्ट के आदेश के बाद देर शाम के बाद चिदंबरम को तिहाड़ जेल लाया गया और उनका मेडिकल चेकअप हुआ।

जेल में अपनी पहली रात को उन्होंने हल्का खाना खाया और अपनी दवाईंयां लीं।

जेल

जिस कोठरी में रहे बेटे कार्ति, उसे में बंद रहेंगे चिदंबरम

चिदंबरम को तिहाड़ की सात नंबर जेल के दूसरे वार्ड की कोठरी नंबर 15 में रखा गया है।

सात नंबर जेल में आमतौर पर आर्थिक अपराध करने के आरोपियों को रखा जाता है और अन्य जेलों की तुलना में इसमें कम कैदी होते हैं।

'हिंदुस्तान टाइम्स' के अनुसार, चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम पिछले साल इसी कोठरी में 12 दिन के लिए रखा गया था। कार्ति को भी INX मीडिया केस में तिहाड़ भेजा गया था।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

जेल में JKLF प्रमुख यासीन मलिक के पड़ोसी होंगे चिदंबरम

चिदंबरम के अलावा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ के भांजे रतुल पुरी भी इसी जेल में बंद हैं। इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, चिदंबरम की कोठरी जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (JKLF) प्रमुख यासीन मलिक के बगल में हैं और वह दो हफ्ते उनके पड़ोसी रहेंगे।

सुरक्षा

चिदंबरम के आने के बाद बढ़ी जेल नंबर 7 की सुरक्षा

सात नंबर जेल में दो तरह की कोठरियां हैं, जिनमें से एक तरह की कोठरियों में तीन कैदियों को साथ रखा जाता है, वहीं दूसरी तरह की कोठरियों में केवल एक व्यक्ति को रखा जाता है।

कोर्ट के आदेश के अनुसार, चिदंबरम को एक व्यक्ति वाली कोठरी में रखा गया है।

चिदंबरम के पास Z स्तरीय सुरक्षा भी है और इसे देखते हुए सात नंबर जेल में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

इस जेल में कुल 800 कैदी हैं।

दिनचर्या

जेल में ऐसे शुरू होगा चिदंबरम का दिन

चिदंबरम को जेल में छह कंबल दिए गए हैं और उनकी कोठरी में एक पंखा है।

कोर्ट के आदेश के अनुसार उनकी कोठरी में वेस्टर्न टॉयलेट की व्यवस्था की गई है।

जेल की दिनचर्या के अनुसार, चिदंबरम रात 9 बजे से 6 बजे तक अपनी कोठरी में बंद रहेंगे।

सुबह बाहर आने के बाद उन्हें दो बिस्किट के साथ चाय दी जाएगी।

8 और 9 बजे के बीच उन्हें ब्रेकफास्ट दिया जाएगा।

इससे पहले उन्हें योग और प्रार्थना करनी होगी।

दिनचर्या

दिन में क्या-क्या कर सकेंगे चिदंबरम?

चिदंबरम को ब्रेकफास्ट के बाद लाइब्रेरी जाने या वॉक करने की इजाजत होगी।

सुबह 10:30 से 11:30 के बीच उन्हें लंच दिया जाएगा।

12:30 बजे चिदंबरम को फिर से जेल में बंद कर दिया जाएगा और वह 3:30 बजे बाहर आ सकेंगे।

बाहर आने के बाद वह अन्य कैदियों के साथ कुछ भी खेल सकेंगे।

शाम 6:45 बजे उन्हें डिनर दिया जाएगा और वह अन्य कैदियों के साथ रात 9 बजे तक टीवी देख सकेंगे।

डिनर में मिलेंगे रोटी, दाल, सब्जी और चावल

अधिकारियों ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि डिनर में रोटी, दाल, सब्जी और चावल दिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि चिदंबरम चाहें तो RO प्लांट से पानी पी सकते हैं, नहीं तो जेल की कैंटीन से पानी की बोतल खरीद सकते हैं।

नियम

दिन में 10 लोग चिदंबरम से मिल सकेंगे

नियमों के अनुसार, वकीलों के अलावा चिदंबरम से दिन में अधिकतम 10 लोग मिल सकते हैं।

चिदंबरम चाहें तो अपने परिजनों से कोई किताब मंगा सकते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें जेल अधीक्षक की मंजूरी लेनी होगी।

विचाराधीन कैदियों पर लागू होने वाले नियमों के अनुसार उनके परिजन उन्हें कपड़े दे सकते हैं।

बता दें कि तिहाड़ जेल एशिया की सबसे बड़ी जेल हैं और इसे देश की सबसे सुरक्षित जेल माना जाता है।

खबर शेयर करें

दिल्ली

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI)

तिहाड़ जेल

कार्ति चिदंबरम

जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट

INX मीडिया केस

खबर शेयर करें

अगली खबर