प्यार करने से रोका तो बेटी ने पिता को मारा

देश

20 Aug 2019

बात करने से रोका तो लड़की ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर कर दी पिता की हत्या

बेंगलुरू में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक नाबालिग लड़की ने अपने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर पहले अपने पिता की हत्या की और बाद में लाश को आग के हवाले कर दिया।

पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। 15 वर्षीय लड़की ने पुलिस को बताया कि उसके पिता उसे डेटिंग करने से रोकते थे और उससे फोन छीन लिया था।

आरोपी लड़की ने कहा कि वह अपनी आजादी वापस चाहती थी।

मामला

बेटी के रिश्ते के खिलाफ थे पिता

पुलिस ने बताया कि लड़की और उसका 19 वर्षीय बॉयफ्रेंड प्रवीण एक ही स्कूल में पढ़ते थे।

पुलिस ने लड़के को रविवार को गिरफ्तार किया था। पुलिस को दिए बयान में लड़की ने कहा कि उसके पिता को उन दोनों का रिश्ता मंजूर नहीं था और उसे पढ़ाई पर ध्यान देने को कहते थे।

लड़की ने पुलिस को बताया कि उसके पिता ने उसका फोन छीन लिया था और इंटरनेट के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी थी।

आरोप

बॉयफ्रेंड से मिलने पर पिता ने की थी बेल्ट से पिटाई

डिप्टी पुलिस कमिश्नर (DCP) एन शशिकुमार ने जानकारी दी कि लड़की ने पुलिस को बताया कि उसके कपड़ों के जाने-माने व्यापारी पिता ने एक मॉल में उसे अपने बॉयफ्रेंड से मिलते देख लिया था। इससे गुस्सा होकर उसके पिता ने उसे बेल्ट से मारा था।

जांच अधिकारियों ने बताया कि सोशल मीडिया इस्तेमाल करने से रोकना और दोस्तों से मिलने पर लगाई रोक के चलते लड़की ने अपने पिता की हत्या की है।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

घटना

फोन पर बात कर बनाया पिता से बदला लेने का प्लान

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि लड़का-लड़की दोनों एक साथ समय बीताते थे और फोन पर घंटो बातें करते थे।

जब लड़की के पिता को इसका पता चला तो उन्होंने अपनी बेटी को यह दोस्ती खत्म करने को कहा।

प्रवीण ने नाबालिग लड़की को फोन गिफ्ट किया था और वो छिप-छिप कर बातें करते थे।

इसी दौरान दोनों ने लड़की के पिता से बदला लेने की योजना बनाई और इस घटना को अंजाम दे दिया।

पूछताछ

दोनों ने कबूला अपना जुर्म

DCP ने बताया कि लड़की ने दूध में नींद की गोलियां मिलाकर अपने पिता को पिला दिया। इसके बाद उसने अपने बॉयफ्रेंड को बुलाया।

दोनों ने मिलकर चाकू से पिता की हत्या कर दी। उन्होंने हत्या करने की बात स्वीकार ली है।

घटना के समय लड़की की मां अपने घर पर नहीं थीं। उन्होंने अपनी बेटी को निर्दोष बताते हुए कहा कि वह ऐसा काम नहीं कर सकती। वह अभी तक सदमे में है।

पेट्रोल छिड़क कर लगाई शव को आग

वारदात के बाद लड़की बाहर कहीं से पेट्रोल लेकर लाई। इसके बाद वह अपने पिता के शव को बाथरूम में लेकर गई और पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। इस दौरान पड़ोसियों ने घर से धुआं निकलता देख कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी।

खबर शेयर करें

अपराध

बेंगलुरू

खबर शेयर करें

अगली खबर