युद्ध सेवा मेडल पाने वाली पहली महिला बनीं मिंटी अग्रवाल

देश

16 Aug 2019

युद्ध सेवा मेडल पाने वालीं मिंटी अग्रवाल ने बताया- कैसे अभिनंदन ने गिराया था पाकिस्तानी विमान

भारतीय वायुसेना की स्क्वॉड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल को युद्ध सेवा मेडल दिया गया है। इस मेडल को पाने वाली वो पहली महिला हैं।

बालाकोट एयर स्ट्राइक से अगले दिन भारत-पाक के बीच हुए हवाई लड़ाई के वक्त मिंटी फ्लाइट कंट्रोलर थीं।

मिंटी ही विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को वॉर रूम से सारी स्थिति समझा रही थीं।

मिंटी ने वो लम्हा देखा है जब अभिनंदन ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को मार गिराया था।

आइये, पूरी कहानी जानते हैं।

युद्ध सेवा मेडल पाने वाली महिला बनीं मिंटी अग्रवाल

मिंटी पहली रक्षा अधिकारी हैं, जिन्हें युद्ध सेवा मेडल से सम्मानित किया गया है। यह मेडल युद्ध, संघर्ष और शत्रुता के समय दिखाए गए उच्च क्रम की सेवा को मान्यता देने के लिए दिया जाता है।

बयान

अभिनंदन ने सही समय पर लगाया निशाना- मिंटी

विंग कमांडर अभिनंदन द्वारा पाकिस्तानी लड़ाकू विमान F-16 मार गिराए जाने के वाकये को याद करते हुए मिंटी ने समाचार एजेंसी ANI को बताया, "जब से विंग कमांडर अभिनंदन ने उड़ान भरी थी, मैं उनको पूरी स्थिति के बारे में बता रही थी। मैंने अपनी स्क्रीन से F-16 को गायब होते देखा था।"

मिंटी ने बताया कि अभिनंदन ने बिल्कुल सही समय पर दुश्मन के लड़ाकू विमान पर निशाना लगाया था।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

जरूरी भूमिका निभाते हैं फ्लाइट कंट्रोलर्स

वायुसेना में विमानों की उड़ान में फ्लाइट कंट्रोलर्स अहम भूमिका निभाते हैं। वो यह तय करते हैं कि लड़ाकू विमान कभी भी खतरे वाली जगह और अपने बेड़े से अलग न उड़ें। इसके अलावा वे दुश्मन विमानों पर भी नजर रखते हैं।

बयान

पाकिस्तान की प्रतिक्रिया के लिए तैयार थे- मिंटी

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की तरफ से भारत में घुसने की कोशिश पर मिंटी ने बताया कि एयर स्ट्राइक के बाद लग रहा था कि पाकिस्तान बदला लेने की कोशिश करेगा।

मिंटी ने बताया, "हमने बालाकोट में सफलतापूर्वक एयर स्ट्राइक की थी। हमें उम्मीद थी कि पाकिस्तान बदला लेने की कोशिश करेगा। हम इसके लिए पूरी तरह तैयार थे। उन्होंने 24 घंटों में इसकी कोशिश की। पहले उनके कुछ विमान आए और धीरे-धीरे ये बढ़ते गए।"

सम्मान

एयर स्ट्राइक करने वाले पायलटों को भी मिला सम्मान

स्क्वॉड्रन लीडर मिंटी ने कहा पाकिस्तानी विमान भारतीय हवाई सीमा में घुस आए थे और यहां नुकसान पहुंचाना चाहते थे, लेकिन भारतीय वायुसेना के सतर्क पायलटों, कंट्रोलर्स और पूरी टीम की वजह से वो अपने मिशन में कामयाब नहीं हो पाए।

मिंटी के अलावा बालाकोट एयर स्ट्राइक में आतंकी ठिकानों पर बम बरसाने वाले भारतीय वायुसेना के पांच पायलटों को वायुसेना मेडल मिला है।

साथ ही विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को वीर चक्र मिला है।

बहादुरी

अभिनंदन ने मार गिराया था पाकिस्तानी लड़ाकू विमान

बालाकोट एयरस्ट्राइक से अगले दिन पाकिस्तानी विमानों ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की थी।

विंग कमांडर अभिनंदन इनमें से एक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को मार गिराने की कोशिश में नियंत्रण रेखा से पार चले गए थे।

उन्होंने पाकिस्तान एयरफोर्स के F-16 जेट को मार गिराया था, लेकिन इस दौरान उनके मिग-21 बाइसन को भी नुकसान पहुंचा था।

उन्हें पैराशूट की मदद से पाकिस्तान में उतरना पड़ा। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें हिरासत में ले लिया था।

लडा़ूक विमान उड़ाने के फिट हुए अभिनंदन

अभिनंदन अपनी चोटों से पूरी उबर चुके हैं और अगले कुछ दिनों में वह लड़ाकू विमान उड़ा सकेंगे। लंबे समय से उड़ान से दूर रहे अभिनंदन को रिफ्रेशर कोर्स करना होगा। इसके बाद वो फिर से लड़ाकू विमान में उड़ान भर सकेंगे।

खबर शेयर करें

भारत

पाकिस्तान

अभिनंदन वर्तमान

खबर शेयर करें

अगली खबर