भारत का प्रस्ताव, घुसपैठियों के शव ले जाए पाकिस्तान

देश

04 Aug 2019

भारत ने पाकिस्तान को अंतिम संस्कार के लिए घुसैपठियों के शव ले जाने को कहा

भारतीय सेना ने पाकिस्तान को 5 घुसपैठियों के शवों को अंतिम संस्कार के लिए ले जाने का प्रस्ताव दिया है।

सेना ने पाकिस्तानी सेना को सफेद झंडे के साथ आने को कहा है।

ये घुसपैठिए पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) के सदस्य हैं, जो भारत में घुसपैठ करके केरान सेक्टर में भारतीय सेना की एक पोस्ट पर हमला करना चाहते थे।

पाकिस्तान ने भारतीय सेना के प्रस्ताव पर अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है।

तस्वीरें

LoC पर भारत की तरफ पड़े हैं शव

खबरों के अनुसार, ये घटना पिछले दो दिनों के अंदर हुई, जब BAT के सदस्यों ने भारत में घुसपैठ की कोशिश की और इस दौरान मारे गए।

मीडिया को जारी की गए तस्वीरों में घुसपैठियों के शवों को नियंत्रण रेखा (LoC) पर भारत की तरफ पड़ी हुई हैं।

खबरों के मुताबिक केरान सेक्टर में सीमा पार से भारी गोलीबारी अभी भी जारी है।

भारतीय सेना ने शनिवार को पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का भरपूर जवाब दिया।

क्या है BAT?

बदनाम है पाकिस्तान की BAT टुकड़ी

पाकिस्तानी सेना की BAT टुकड़ी को बेहद खतरनाक माना जाता है।

ये टुकड़ी जवानों के शवों को क्षत-विक्षिप्त करने के लिए बदनाम है।

इसमें पाकिस्तानी सेना के जवानों के अलावा आतंकवादी भी शामिल होते हैं।

इन्हें 8 महीने कड़ी ट्रेनिंग दी जाती है और इनके पास अत्याधुनिक हथियार होते हैं।

BAT का मुख्य काम भारत में घुसपैठ करके हमलों को अंजाम देना है।

ये टुकड़ी भारत में घुसपैठ के लिए आतंकियों को कवर फायर भी देती है।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

सैन्य सूत्र

"आतंकी गतिविधियों में पाकिस्तान की लिप्तता का सबूत"

पाकिस्तान की तरफ से जारी लगातार गोलीबारी पर NDTV से सेना के सूत्रों ने कहा, "ये आतंकी गतिविधियों में पाकिस्तान की लिप्तता का साफ संकेत देता है। सुरक्षा बल LoC और आंतरिक इलाकों में किसी भी नापाक हरकत का भरपूर जवाब देना जारी रखेंगे।"

सूत्रों ने इस दौरान ये भी बताया कि पिछले 2 दिनों में पाकिस्तानी बलों द्वारा अमरनाथ यात्रियों पर हमले की कोई कोशिश नहीं की गई है।

अमरनाथ यात्रा

आतंकी हमले के खतरे से कारण रद्द हुई अमरनाथ यात्रा

शुक्रवार को भारतीय सेना ने खुलासा किया था कि पाकिस्तानी आतंकवादियों ने अमरनाथ यात्रा पर हमले की कोशिश की थी।

अमरनाथ यात्रा के रास्ते पर पाकिस्तानी मुहर वाली लैंडमाइन और एक अमेरिकी स्नाइपर राइफल बरामद हुई थी।

इसके बाद राज्य प्रशासन ने सभी तरह के यात्रियों को तत्काल कश्मीर छोड़ने का सुझाव जारी किया था।

अतिरिक्त अर्धसैनिक बलों की तैनाती पर जारी तनाव के बीच इस घोषणा के बाद घाटी में चिंता और डर का माहौल और बढ़ गया था।

खबर शेयर करें

भारत

पाकिस्तान

कश्मीर

भारतीय सेना

आतंकवाद

नियंत्रण रेखा (LoC)

गोलीबारी

अमरनाथ यात्रा

खबर शेयर करें

अगली खबर