कॉलर ने कहा 'बॉम्बे', एयरपोर्ट वालों ने समझा 'बॉम्ब है'

देश

26 Jul 2019

मुंबई: कॉलर ने पूछा 'बॉम्बे एयरपोर्ट है', एयरपोर्ट वालों ने समझा 'बॉम्ब है एयरपोर्ट पे'

किसी शब्द को गलत सुनने या समझने पर क्या हो सकता है, इसका एक नमूना हाल ही में मुंबई एयरपोर्ट पर देखने को मिला।

एक कॉलर ने जब एयरपोर्ट पर फोन करके शहर के पुराने नाम 'बॉम्बे' का उपयोग किया तो कंट्रोल रूम में बैठे एयरपोर्ट कर्मचारी ने इसे 'बॉम्ब' समझ लिया।

उनसे तभी कॉलर से पूरी बात स्पष्ट की, लेकिन कोई भी खतरा न उठाते हुए एयरपोर्ट पर सुरक्षा बढ़ा दी गई।

आइए आपको पूरा मामला बताते हैं।

मामला

नौकरी के बारे में पूछने के लिए किया था कॉल

महाराष्ट्र के धुले से आने वाले एक 20 वर्षीय युवक ने जॉब वैकेंसी के बारे में पूछने के लिए एयरपोर्ट पर फोन किया था।

होटल मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन कर चुके युवक ने गूगल से एयरपोर्ट का नंबर निकाला कर कॉल लगाया था।

कॉल एयरपोर्ट के कंट्रोल रूम में लगा, जहां बैठे कर्मचारी से युवक ने कहा, "बॉम्बे एयरपोर्ट है?"

सुनने और समझने में हुई गलती के कारण कर्मचारी ने इसे "बॉम्ब है एयरपोर्ट पे" समझ लिया।

गलतफहमी

युवक ने गलतफहमी के लिए मांगी माफी

ये सुनकर कर्मचारी ने तुरंत युवक से पूछताछ की, जिसके बाद युवक ने समझाया कि वह क्या कह रहा था और गलतफहमी के लिए माफी मांगी।

युवक की सफाई के बावजूद कंट्रोल रूम स्टाफ ने कोई खतरा न उठाने का फैसला किया और सुरक्षा बलों को अलर्ट कर दिया।

घटना 19 जुलाई को शाम 04:30 बजे हुई थी।

दो घंटे की जांच के बाद कॉल को गैर-जरूरी मानते हुए कॉलर को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

बयान

एयरपोर्ट अधिकारी ने बताई पूरी घटना

एयरपोर्ट के एक अधिकारी ने घटना की जानकारी देते हुए बताया, "कॉल मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के कंट्रोल रूम में आई और कॉलर ने पहले मुंबई एयरपोर्ट पर वैकेंसीज के बारे में पूछा। जब उसे बताया गया कि ये विभाग केवल ऑपरेशन संबंधी मामले देखता है तो उससे कुछ कहा, जिसे फोन उठाने वाले कर्मचारी ने एयरपोर्ट पर बम होने के रूप में सुना।"

उन्होंने बताया कि मामले में बम धमकी मूल्यांकन समिति का भी निर्माण किया गया था।

बयान

निराश है कॉल करने वाला युवक

अंग्रेजी अखबार 'हिंदुस्तान टाइम्स' ने जब कॉल करने वाले युवक से बात की तो वह निराश नजर आया।

उसने कहा, "मैं एक प्रबंधक हूं और पहले कुछ होटलों में काम किया है। लेकिन पिछले 4-5 महीने से मेरे पास कोई नौकरी नहीं है। मैं सभी को कॉल कर रहा हूं और जब किसी ने मुझे वैकेंसी के बारे में बताया तो मैंने उस दिन मुंबई एयरपोर्ट पर फोन कर दिया। मेरा और कोई मकसद नहीं था।"

युवक ने कहा, तुंरत मांग ली थी अनजाने में हुई गलती के लिए माफी

युवक ने आगे बताया, "मैंने तुरंत अनजाने में हुई अपनी गलती के लिए माफी मांगी। कॉल उठाने वाले कर्मचारी ने मेरे खिलाफ शिकायत दर्ज कराने की धमकी दी। लेकिन मैंने उसे बताया कि ये बस एक गलतफहमी थी।" "

खबर शेयर करें

मुंबई

गूगल

खबर शेयर करें

अगली खबर