योगी की रैली में दिखा दादरी हत्याकांड का आरोपी

देश

01 Apr 2019

योगी की रैली में पहली पंक्ति में बैठकर नारे लगा रहा था दादरी हत्याकांड का आरोपी

उत्तर प्रदेश में हुए दादरी हत्याकांड का आरोपी विशाल सिंह योगी आदित्यनाथ की रैली में पहली पंक्ति में बैठा था।

रविवार को योगी ने दादरी की हत्या के बाद सुर्खियों में आए बिसाहड़ा गांव में चुनावी सभा की थी।

इस दौरान हत्यारोपी विशाल पहली पंक्ति में बैठकर योगी-योगी के नारे लगा रहा था।

बता दें, दादरी की हत्या के 17 आरोपी इस समय जमानत पर बाहर हैं, जबकि एक की जेल में मौत हो गई थी।

सुनवाई

10 अप्रैल को है मामले की अगली सुनवाई

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्थानीय भाजपा नेता संजय राणा के बेटे विशाल समेत 16 आरोपी योगी की इस रैली में भाषण सुनने आए थे।

विशाल के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) और 307 (हत्या की कोशिश) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। फास्ट ट्रैक कोर्ट में इस मामले की सुनवाई चल रही है, जहां 10 अप्रैल को अगली सुनवाई होगी।

दादरी की हत्या में पकड़े गए आरोपियों को इलाहाबाद हाई कोर्ट से जमानत मिली थी।

भाषण

योगी ने अपने भाषण में बोला सपा पर हमला

रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने ने कहा कि पहले राज्य में बिना किसी रोकटोक के अवैध बूचड़खाने चलते थे।

आगे उन्होंने कहा, "कितने शर्म की बात है कि समाजवादी सरकार ने तब भावनाओं को दबाने की कोशिश की और मैं कह सकता हूं कि हमारी सरकार बनते ही हमने अवैध बूचड़खानों को बंद कराया।"

योगी ने कहा कि कौन नहीं जानता कि बिसहाड़ा में क्या हुआ था। सबको पता है।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

'आतंकियों को गोली से सबक सिखाती है मोदी सरकार'

योगी ने कहा कि कांग्रेस सरकार आतंकवादियों को बिरयानी खिलाती थी, आंतकियों के नाम के आगे 'जी' लगाते थे, लेकिन मोदी सरकार उनके नाम के आगे जी नहीं लगाती बल्कि उन्हें गोलियों से सिखाती है।

दादरी हत्याकांड

क्या था दादरी हत्याकांड

क्या था दादरी हत्याकांड

साल 2015 में उत्तर प्रदेश के दादरी के बिसहाड़ा गांव में भीड़ ने गौमांस रखने की अफवाह पर अखलाक नामक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।

हमले में अखलाक के अलावा उनके बेटे और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भी मारपीट की गई थी।

इस घटना के बाद देश की राजनीति में खूब विवाद हुआ था। तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस घटना की निंदा की थी।

विवाद बढ़ने के बाद आरोपियों को हिरासत में लिया गया था।

अखलाक

अभी कहां है अखलाक का परिवार?

घटना के कुछ समय बाद मोहम्मद अखलाक के परिवार ने गांव छोड़ दिया था। उनका एक बेटा सरताज एयरफोर्स में है।

फिलहाल अखलाख का परिवार सरताज के साथ दिल्ली में रह रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने ग्रेटर नोएडा में परिवार के लिए एक फ्लैट आवंटित किया था, लेकिन उन्होंने वहां जाने से मना कर दिया।

घटना के बाद से परिवार का कोई सदस्य गांव में नहीं गया है और वहां स्थित उनके घर पर ताला लगा हुआ है।

खबर शेयर करें

योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश

मोहम्मद अखलाक

दादरी मॉब लिंचिंग

खबर शेयर करें

अगली खबर