पुलवामा में आतंकियों के साथ एनकाउंटर में चार जवान शहीद

देश

18 Feb 2019

पुलवामाः आतंकियों के साथ एनकाउंटर में मेजर समेत चार जवान शहीद, सर्च ऑपरेशन जारी

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के पिंगलान इलाके में आतंकियों के साथ एनकाउंटर में भारतीय सेना के मेजर सहित चार जवान शहीद हो गए।

यह एनकाउंटर देर रात साढ़े 12 बजे से शुरू हुआ था। आशंका जताई जा रही है कि आतंकी मौके से फरार हो गए हैं।

इस एनकाउंटर में एक स्थानीय नागरिक की भी मौत हो गई, जिसके बाद इलाके में तनाव फैल गया और लोगों ने सुरक्षा बलों पर पथराव शुरू कर दिया।

घटनास्थल की तस्वीरें

ऑपरेशन

पुलवामा हमले के मास्टरमाइंट के छिपे होने की सूचना

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले के मास्टरमांइड गाजी राशिद के इस इलाके में छिपे होने की सूचना मिली थी।

यह सूचना मिलने के बाद 55RR, CRPF और SOG के जवानों ने संयुक्त ऑपरेशन चलाया।

इसी दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि ये आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के ही हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि जैश-ए-मोहम्मद ने ही पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

शहीद जवान

इन जवानों ने दी शहादत

इन जवानों ने दी शहादत

एनकाउंटर में शहीद हुए जवानों के नाम मेजर डीएस डोंडियाल, हेड कॉन्स्टेबल सेवा राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंह शामिल हैं। सभी शहीद 55 राष्ट्रीय राइफल्स (RR) का हिस्सा थे।

एनकाउंटर में एक जवान घायल हुआ है, जिसे अस्पताल में भर्ती किया गया है।

फिलहाल इस पूरे इलाके को घेर लिया गया है और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

इससे पहले 13 फरवरी को इसी इलाके में हुए एनकाउंटर में हिब्जुल का एक कमांडर मारा गया था।

CRPF पर हमला

गुरुवार को आतंकी हमले में शहीद हुए थे 40 जवान

बीते गुरुवार को पुलवामा के ही लेथपोरा में हुए आतंकी हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हुए थे।

जम्मू से श्रीनगर जा रहे अर्धसैनिक बल के काफिले की बस में आतंकी ने विस्फोटकों से भरी हुई कार टकरा दी थी। हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी।

इस हमले के बाद सरकार ने कड़ा रूख अपनाते हुए कहा कि सेना को इस हमले का बदला लेने की खुली छूट दी है।

खबर शेयर करें

CRPF

पुलवामा

भारतीय सेना

खबर शेयर करें

अगली खबर