अपने दोस्तों के साथ शेयर करें!

देश
11 Feb 2019

प्रधानमंत्री मोदी को मिले तोहफे हुए नीलाम, 5 लाख में बिकी प्लेटफॉर्म पर मोदी वाली पेंटिंग

प्रधानमंत्री मोदी को मिले तोहफों की नीलामी प्रक्रिया पूरी

हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी को मिले तोहफों की नीलामी हुई थी। यह ऑफलाइन और ऑनलाइन तरीकों से की गई थी।

इसमें प्रधानमंत्री मोदी को मिले 1,800 से ज्यादा तोहफे बेचे गए। इनमें से कई तोहफे अपने बेस प्राइस से कई गुणा कीमत पर बिके।

अब यह प्रक्रिया पूरी हो गई है। इस नीलामी में मिले पैसे नमामि गंगे अभियान में लगाए जाएंगे।

हालांकि, इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि नीलामी में कितना पैसा इकट्ठा हुआ है।

प्रसंग

प्रधानमंत्री मोदी को मिले तोहफों की नीलामी प्रक्रिया पूरी

नीलामी

इन तोहफो को मिली सबसे ज्यादा कीमत

सबसे महंगे नीलाम होने वाले तोहफों की बात की जाए तो 4,000 रुपये बेस प्राइस वाली लकड़ी से बनी अशोक स्तंभ की प्रतिकृति 13 लाख रुपये में नीलाम हुई।

इसके अलावा असम से प्रधानमंत्री मोदी को मिली होराई (असम का एक पारंपरिक प्रतीक) की नीलामी 12 लाख रुपये में हुई। इसका बेस प्राइस 2,000 रुपये रखा गया था।

वहीं भगवान शिव की प्रतिमा को 10 लाख रुपये में खरीदा गया, जिसका बेस प्राइस 5,000 रुपये था।

पांच लाख में बिकी रेलवे प्लेटफॉर्म पर मोदी की तस्वीर वाली पेंटिंग

पेंटिंग

पांच लाख में बिकी रेलवे प्लेटफॉर्म पर मोदी की तस्वीर वाली पेंटिंग

दिल्ली स्थित नेशनल गैलरी ऑफ मॉर्डन आर्ट (NGMA) में हुई नीलामी में उस पेंटिंग को पांच लाख रुपये में खरीदा गया, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को रेलवे प्लेटफॉर्म पर दिखाया गया था।

इसके अलावा 4,000 रुपये बेस प्राइस वाली गौतम बुद्ध की प्रतिमा को सात लाख रुपये में नीलाम किया गया।

बता दें, मुख्यमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी को मिले स्मृति चिन्ह की भी नीलामी की गई थी। इससे मिली रकम को लड़कियों की पढ़ाई के लिए खर्च किया था।

देश की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

पहली बार नीलाम हुए प्रधानमंत्री को मिले तोहफे

इस नीलामी की प्रक्रिया 9 फरवरी को पूरी हो गई थी। इतिहास में यह पहली बार है जब किसी प्रधानमंत्री को मिले तोहफों की नीलामी की गई है। इन तोहफों में प्रतीक चिन्ह, पगड़ी, शॉल, मूर्तियां, जैकेट और पारंपरिक वाद्य यंत्र आदि शामिल थे।

अगली खबर