अब दिल्ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड

करियर

11 Sep 2019

मनीष सिसोदिया ने कहा- अब दिल्ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड, जानें इसके पीछे का उद्देश्य

दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया के हाल में ही दिए गए बयान के अनुसार जल्द ही दिल्ली अपना नया शिक्षा बोर्ड लाने वाला है।

जी हां अब दिल्ली सरकार केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) से अलग अपना खुद का शिक्षा बोर्ड लाने की तैयारी कर रही है।

ये बोर्ड नेक्‍स्‍ट जनरेशन के लिए होगा, जो छात्रों की JEE और NEET जैसी परीक्षाओं की तैयारी कराने में मदद करेगा।

आइए जानें क्या है पूरी खबर।

उद्देश्य

क्या है ऐसा करने का उद्देश्य

मंगलवार यानी 10 सितंबर, 2019 को मनीष सिसोदिया ने नया शिक्षा बोर्ड बनाने की घोषणा करते समय कहा कि अभी मौजूदा बोर्ड से छात्र स्कूलों में केवल बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी कर पाते हैं। उन्हें मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए कोचिंग का सहारा लेना पड़ता है।

इसलिए दिल्ली का नया अपना शिक्षा बोर्ड आने के बाद छात्रों की इस मुश्किल का हल निकाला जा सकता है।

2015

साल 2015 से इस पर किया जा रहा विचार

न्यूज एजेंसी PTI के अनुसार मनीष सिसोदिया का कहना है कि दिल्ली का अलग शिक्षा बोर्ड लाने पर साल 2015 से विचार चल रहा है।

खुद का नया शिक्षा बोर्ड लाने से पहले स्कूल के इमारतों की स्तिथि देखी जाने पर, यह विचार किया गया कि नया बोर्ड लाने से पहले इमारतों और बुनियादी बातों पर ध्यान देना चाहिए।

उन्होंने साथ ही कहा कि अब दिल्ली का अपना नया शिक्षा बोर्ड लाने का समय आ गया है।

करियर की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

पहले भी नया बोर्ड लाने की कही थी बात

पाठ्यक्रम

कैसे होगा पाठ्यक्रम

अगर हम बोर्ड के करिकुलम और पाठ्यक्रम की बात करें, तो सिसेदिया ने बताया कि पाठ्यक्रम में सभी विषयों के लिए अगल-अलग ग्रेड देने पर विचार किया जा रहा है।

जिससे ये समझा जा सके कि छात्र क्या करना चाहता है।

सिसोदिया ने हाल ही में एक 'शिक्षा' नाम की किताब लॉन्च की है, जिसमें दिल्ली के अपने नए बोर्ड के होने की जरुरत के बारे में बताया गया है।

खबर शेयर करें

दिल्ली

CBSE

मनीष सिसोदिया

शिक्षा

छात्र

खबर शेयर करें

अगली खबर