ये पांच डॉक्टर बने आंत्रप्रेन्योर, जानें

करियर

11 Jul 2019

भारत के इन पांच महान डॉक्टरों ने शुरू किया अपना व्यवसाय, बनें आंत्रप्रेन्योर

डॉक्टर बनना कई युवाओं का सपना होता है और यह देश में सबसे अधिक मांग वाले व्यवसायों में से एक है।

डॉक्टर होना एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है और इसके लिए बहुत समझ की भी जरूरत होती है।

कई डॉक्टर हैं, जिन्होंने लोगों की बेहतर सेवा करने के लिए हेल्थ केयर इनोवेशन और आंत्रप्रेन्योर के क्षेत्र में प्रवेश किया।

हमने यहां पांच ऐसे डॉक्टर के बारे में बताया हैं, जो आंत्रप्रेन्योर हैं।

आइए जानें।

#1

अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप के संस्थापक हैं हृदय रोग विशेषज्ञ

अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप के संस्थापक हैं हृदय रोग विशेषज्ञ

प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ प्रताप चंद्र रेड्डी देश के सबसे प्रसिद्ध डॉक्टरों में से एक हैं।

वह अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप के संस्थापक और चेयरमैन हैं।

इस हॉस्पिटल ने अंतर्राष्ट्रीय गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा शुरू की है। इसकी स्थापना 1983 में की गई थी।

रेड्डी को 'मॉर्डन भारतीय स्वास्थ्य सेवा के आर्किटेक्ट' माना जाता है।

इसके साथ ही उन्हें पद्म भूषण (1991) और पद्म विभूषण (2010) से भी सम्मानित किया गया है।

#2

देवी प्रसाद शेट्टी भी बनें आंत्रप्रेन्योर

प्रतिष्ठित कार्डियोलॉजिस्ट डॉ देवी प्रसाद शेट्टी भारत में एक अन्य ऐसे डॉक्टर हैं, जो आंत्रप्रेन्योर बने हैं।

वह सन 2000 में बेंगलुरू में स्थापित नारायण हेल्थ (जिसे पहले नारायण हृदयालय के नाम से जाना जाता था) के संस्थापक और अध्यक्ष हैं।

ये मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल, हृदय केंद्रों और प्राथमिक देखभाल सुविधाओं की श्रृंखला है।

देश में सस्ती स्वास्थ्य सेवा में उनके योगदान के लिए उन्हें पद्म श्री (2004) और पद्म भूषण (2012) से सम्मानित किया गया है।

करियर की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

#3

इस लिस्ट में अगला नाम है डॉ सैयद सबाहत अजीम का

इस लिस्ट में अगला नाम है डॉ सैयद सबाहत अजीम का

डॉक्टर और पूर्व IAS अधिकारी डॉ सैयद सबाहत अजीम एक हेल्थकेयर आंत्रप्रेन्योर हैं।

2000 बैच के IAS अधिकारी डॉ अजीम ग्लोकल हेल्थकेयर सिस्टम के संस्थापक और CEO हैं।

यह 2010 में कोलकाता में स्थापित किया गया था।

ग्लोकल हेल्थकेयर सिस्टम का उद्देश्य कम लागत वाले अच्छे अस्पताल की स्थापना करके ग्रामीण आबादी तक गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाओं को पहुंचाना है।

#4

डॉ सुनीता माहेश्वरी और डॉ अर्जुन कल्याणपुर

डॉ सुनीता माहेश्वरी और डॉ अर्जुन कल्याणपुर दोनों येल विश्वविद्यालय से ट्रेंड फिजिशियन होने के साथ-साथ दंपति हैं।

इन्होंने टेली रेडियोलॉजी सॉल्यूशंस ग्रुप की स्थापना की है।

उन्होंने 2002 में बेंगलुरु में इसकी स्थापना की थी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह अमेरिका, सिंगापुर, नाइजीरिया, युगांडा, तंजानिया सहित 21 देशों के 150 से अधिक अस्पतालों में CT, MRI, एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड, न्यूक्लियर मेडिसिन और इकोकार्डियोग्राम जैसी टेलीरेडियोलॉजी सेवाएं प्रदान करता है।

डॉ सौरव दास हैं न्यूडिगम हेल्थकेयर टेक्नोलॉजीज के सह-संस्थापक

डॉ सौरव दास चेन्नई स्थित न्यूडिगम हेल्थकेयर टेक्नोलॉजीज के संस्थापकों में से एक हैं। वह कंपनी के सह-संस्थापक और कंपनी की मेडिकल स्ट्रेटिजी के प्रमुख हैं, जो ग्रामीण और दूरदराज के स्थानों में लोगों के लिए पब्लिक बेल्थ, टेक्नॉलॉजी आदि प्रदान करता है।

खबर शेयर करें

शिक्षा

छात्र

करियर बाइट्स

खबर शेयर करें

अगली खबर