भारत के कुछ इनोवेटिव स्कूल के बारे में जानें

करियर

15 Apr 2019

ये हैं भारत के पांच सबसे अलग और इनोवेटिव स्कूल, जानें इनके बारे में

शिक्षा जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, जो व्यक्ति के मन और बुद्धि के विकास को बढ़ाता है।

बच्चों पर शिक्षा के अधिक वर्णन को लेकर आज की शिक्षा प्रणाली की आलोचना की जा रही है और वास्तविक शिक्षा के बजाय रटकर सीखने को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

हालांकि कुछ स्कूल ऐसे हैं, जो शिक्षा को बदल रहे हैं।

वे अलग तरीके से सीखने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

यहाँ हमने भारत के कुछ ऐसे स्कूल बताएं हैं।

वेगा स्कूल

वेगा स्कूल है भारत के सबसे इनोवेटिव स्कूलों में से एक

गुरुग्राम का वेगा स्कूल सबसे इनोवेटिव स्कूलों में से एक है।

इसे वैज्ञानिक रूप से वास्तविक शिक्षा पर ध्यान केंद्रित करने के लिए बनाया गया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसका उद्देश्य शिक्षा प्रणाली में सुधार करना है।

इसमें विशेष रूप से डिजाइन किए गए खुले क्लास रुम हैं।

यह अकादमिक एक्सीलेंस से परे दिखता है और इन पांच बातों जैसे सहानुभूति, अखंडता, एक्सीलेंस, सहयोग और इनोवेशन को महत्व देता है।

म्यूजियम स्कूल

ये स्कूल देते है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा

कुछ अच्छे इनोवेटिव स्कूलों में परवरिश, भोपाल म्यूजियम स्कूल का नाम भी आता है।

ये वास्तव में एक इनोवेटिव स्कूल है, क्योंकि यह एक अलग तरीके से शिक्षा में असमानता (Inequality) को कम करता है।

यह स्थानीय संग्रहालयों (म्यूजियम) के माध्यम से वंचित बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करता है।

यह म्यूजियम को स्कूलों के तौर पर उपयोग करता है। इसके साथ ही B.Ed छात्रों का अध्यापकों के तौर पर उपयोग करता है।

करियर की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

'फ्लोटिंग' लोकतक लेक स्कूल है एक अच्छा स्कूल

मणिपुर में लोकतक लेक स्कूल, प्राचीन मीठे पानी की झील पर बना एक विद्यालय है। यह 10वीं छोड़ने वालों और मछली पकड़ने वालों के बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए शुरू हुआ था, जो अपने गांव से दूर स्कूलों में नहीं जा सकते थे।

येलो ट्रेन स्कूल

येलो ट्रेन स्कूल भी है काफी इनोवेटिव

तमिलनाडु के कोयंबटूर में येलो ट्रेन स्कूल पाठ्यपुस्तकों और अध्यायों के बजाय छात्रों के विकास पर ध्यान देता है।

ये स्कूल खुद को "एक प्रगतिशील स्कूल" के रूप में परिभाषित करता है।

ये एक जैविक खेत पर बना हुआ है।

इस स्कूल का कहना है कि हरे-भरे खेत, बाग, आंवले के पेड़, गाय, मोर और प्यार करने वाले शिक्षक, बच्चों को खुशी के साथ सिखाते और बढ़ाते हैं।

साथ ही कहा कि हमारा शैक्षणिक कार्यक्रम एक्सीलेंस का लक्ष्य रखता है।

लेवलफील्ड स्कूल हैं सबसे अलग

पश्चिम बंगाल में लेवलफील्ड स्कूलों का उद्देश्य छोटे शहरों में सस्ती और अच्छी शिक्षा प्रदान करना है। वे विश्व स्तर की शिक्षा प्रदान करते हैं। ये स्कूल छात्रों को पहेलियों, खेलों और चर्चाओं के माध्यम से एक साथ सीखने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

खबर शेयर करें

शिक्षा

छात्र

स्कूल

करियर बाइट्स

खबर शेयर करें

अगली खबर