अपने दोस्तों के साथ शेयर करें!

बिज़नेस
29 Dec 2018

59 मिनट में लोनः सरकारी बैंकों ने MSME सेक्टर को दिया Rs. 37,412 करोड़ का लोन

59 मिनट में लोन स्कीम के तहत बांटा गया लोन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 नवंबर को सूक्ष्म, छोटे और मध्यम उद्योगों (MSME) को 59 मिनट में लोन देने की योजना शुरू की थी।

आंकड़ों के अनुसार 25 दिसंबर तक सरकारी बैंकों ने इस योजना के तहत MSME को लगभग Rs. 37,412 करोड़ का लोन दिया है।

इस योजना के तहत अभी तक 1 लाख 12 हज़ार लोन आवेदनों को मंजूरी दी गई है।

MSME सेक्टर को परेशानी से उबारने के लिए सरकार ने यह योजना शुरू की थी।

प्रसंग

59 मिनट में लोन स्कीम के तहत बांटा गया लोन

अर्थव्यवस्था

देश की अर्थव्यवस्था में MSME का बड़ा योगदान

इस स्कीम में GST के तहत रजिस्टर्ड छोटे उद्योगों को 'psbloansin59minutes.com' पोर्टल के जरिए महज 59 मिनट में Rs. 1 करोड़ तक का लोन दिया जाता है।

भारत में लगभग 4.6 करोड़ मझोले और छोटे उद्योग हैं। देश की GDP में MSME सेक्टर का 38 फीसदी, देश से निर्यात किए जाने वाले उत्पादों में 40 फीसदी और कुल उत्पादन में 45 फीसदी हिस्सा है।

बड़े स्तर पर रोजगार देने के अलावा यह सेक्टर लगभग 6,000 उत्पादों का उत्पादन करता है।

स्कीम

क्या है 59 मिनट में लोन स्कीम?

नोटबंदी और GST लागू होने के बाद छोटे स्तर के उद्योगों पर बुरा असर पड़ा था।

इन उद्योगों के सामने भारी परेशानी खड़ी हो गई थी। इस परेशानी को दूर करने के लिए सरकार ने 59 मिनट में लोन देने की स्कीम शुरू की थी।

यह सुविधा फिलहाल मौजूदा बिजनेस के लिए है, लेकिन जल्द ही नए बिजनेस के लिए भी इसके जरिए लोन लिया जा सकेगा।

लोन की रकम 8 कामकाजी दिनों में अकाउंट में आ जाती है।

बिज़नेस की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

प्रक्रिया

लोन के लिए आवेदन करने में चाहिए ये दस्तावेज

इस योजना का लाभ उठाने के लिए उद्योगों को psbolansin59minutes.com नामक पोर्टल पर लॉगइन करना होता है।

यहां 59 मिनट की आसान प्रक्रिया के जरिए Rs. 1 करोड़ तक के लोन के लिए आवेदन किया जा सकता है।

इसमें आवेदन के लिए GSTIN, इनकम टैक्स ई-फाइलिंग पासवर्ड, पिछले तीन सालों के ITR, फर्म की ओनरशिप डिटेल्स आदि दस्तावेजों की जरूरत होती है।

आवेदन मंजूर होने पर Rs. 1,000 की फीस के अलावा GST देना होता है।

अगली खबर