RTGS और NEFT ट्रांसफ़र में अंतर

बिज़नेस

10 Jun 2019

RTGS और NEFT ट्रांसफ़र में क्या अंतर है? यहाँ विस्तार से जानिए

आज के समय में डिजिटल लेनदेन पर काफ़ी ज़ोर दिया जा रहा है।

डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने बीते गुरुवार को RTGS (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट सिस्टम) और NEFT (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फ़ंड्स ट्रांसफ़र) सिस्टम फ़ंड ट्रांसफ़र पर लगने वाले शुल्क को माफ़ करने का फ़ैसला किया।

बता दें RTGS और NEFT सिस्टम भारत में बैंकों के बीच फ़ंड ट्रांसफ़र के दो मुख्य तरीक़े हैं।

इन दोनों में क्या अंतर है, यहाँ जानिए।

जानकारी

असल में क्या है RTGS और NEFT फ़ंड ट्रांसफ़र सिस्टम

देश में बैंक खाताधारकों को सुविधा प्रदान करने और आसानी देने के लिए RBI द्वारा RTGS और NEFT भुगतान प्रणाली शुरू की गई थी।

इन फ़ंड्स ट्रांसफ़र सेवाओं का उपयोग करने के लिए आपके पास उस व्यक्ति का मूल बैंक खाता होना चाहिए, जिस व्यक्ति को आप फ़ंड ट्रांसफ़र करना चाहते हैं।

फ़ंड ट्रांसफ़र करने के लिए आपके पास लाभार्थी का नाम, खाता संख्या, बैंक का IFS कोड जैसे विवरण अवश्य रूप से होने चाहिए।

#1

फ़ंड ट्रांसफ़र की न्यूनतम और अधिकतम सीमा

फ़ंड ट्रांसफ़र की न्यूनतम और अधिकतम सीमा

RTGS विधि के माध्यम से फ़ंड ट्रांसफ़र करने की न्यूनतम सीमा दो लाख रुपये है, जबकि NEFT से फ़ंड ट्रांसफ़र करने की न्यूनतम सीमा एक रुपये है।

इसके अलावा RTGS के माध्यम से फ़ंड ट्रांसफ़र करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। वहीं, NEFT के माध्यम से भी फ़ंड ट्रांसफ़र करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है।

लेकिन एकल लेनदेन में देश के अंदर नकद-आधारित ट्रांसफ़र की जाने वाली अधितम राशि 50,000 रुपये है।

बिज़नेस की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

#2

RTGS और NEFT: सेटलमेंट का प्रकार और फ़ंड सेटलमेंट की गति

सेटलमेंट के प्रकार की बात करें तो RTGS भेजे गए फ़ंड का वन-ऑन-वन समझौता है। वहीं, NEFT प्रणाली के माध्यम से भेजे गए फ़ंड का सेटलमेंट बैचों में किया जाता है। फ़ंड प्रति घंटा समय स्लॉट में व्यवस्थित होते हैं।

RTGS की फ़ंड ट्रांसफ़र करने की गति बहुत ही तेज़ होती है, क्योंकि फ़ंड तुरंत ही ट्रांसफ़र हो जाता है। जबकि, NEFT प्रणाली के तहत फ़ंड ट्रांसफ़र करने में दो घंटे का समय लगता है।

#3

RTGS और NEFT के तहत सेवा की उपलब्धता

RTGS और NEFT के तहत सेवा की उपलब्धता

RTGS फ़ंड ट्रांसफ़र सेवाएँ सप्ताह के दिनों में सुबह 09:00 बजे से शाम 04:30 बजे के बीच और शनिवार को सुबह 09:00 बजे से दोपहर 02:00 बजे के बीच उपलब्ध है।

वहीं, NEFT की फ़ंड ट्रांसफ़र सेवा सप्ताह के दिनों में सुबह 08:00 बजे से शाम 07:00 बजे (12 बैच) और शनिवार को सुबह 08:00 बजे से दोपहर 01:00 बजे (छह बैच) के बीच उपलब्ध है।

ये दोनों सेवाएँ रविवार और बैंक छुट्टियों पर उपलब्ध नहीं हैं।

बड़े फ़ंड ट्रांसफ़र के लिए उपयुक्त है RTGS

RTGS विधि बड़े फ़ंड ट्रांसफ़र के लिए उपयुक्त है। NEFT प्रणाली तुलनात्मक रूप से छोटे फ़ंड ट्रांसफ़र के लिए उपयुक्त है। RTGS और NEFT दोनों ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड के ट्रांसफ़र के लिए उपलब्ध हैं।

खबर शेयर करें

भारत

बैंक

RTGS

बिज़नेस

NEFT

खबर शेयर करें

अगली खबर