भारत की दूसरी सबसे लोकप्रिय कंपनी बनी जियो

बिज़नेस

07 Jun 2019

भारत की दूसरी सबसे लोकप्रिय कंपनी बनी रिलायंस जियो, तीसरे नंबर पर पेटीएम

टेलीकॉम सेक्टर में क्रांति लाने वाली कंपनी रिलायंस जियो भारत की दूसरी सबसे लोकप्रिय कंपनी बन गई है।

मुकेश अंबानी की कंपनी जियो पिछले साल इस सूची में तीसरे नंबर पर थी। Ipsos के सर्वे के मुताबिक, सर्च इंजन गूगल भारत की सबसे लोकप्रिय कंपनी बनी हुई है।

जियो की प्रतिद्ंवद्वी कंपनी एयरटेल को सर्वे में आठवां स्थान मिला है। पिछले साल पहले नंबर पर गूगल, दूसरे पर अमेजन और तीसरे नंबर पर जियो थी।

ये हैं भारत की सबसे लोकप्रिय 10 कंपनियां

सर्वे के मुताबिक, सबसे लोकप्रिय कंपनी गूगल के बाद जियो, पेटीएम, फेसबुक और पिछले साल दूसरे नंबर पर रहने वाली अमेजन का स्थान है। छठे नंबर पर सैमसंग, सातवें स्थान पर माइक्रोसॉफ्ट, आठवें पायदान पर एयरटेल, फ्लिपकार्ट नौंवे नंबर और 10वें स्थान पर ऐपल है।

सर्वे

शीर्ष 10 में चार भारतीय कंपनियां

सर्वे में शामिल सभी 10 कंपनियां टेक्नोलॉजी के क्षेत्र से हैं। इनमें से जियो, पेटीएम, एयरटेल और फ्लिपकार्ट चार भारतीय कंपनियां हैं।

इस बारे में बात करते हुए Ipsos के मैनेजिंग डायरेक्टर ने कहा कि भारतीय कंपनियों के लिए शीर्ष 10 में शामिल होना और यह जगह बनाये रखना काफी मुश्किल काम है। रिलायंस जियो ने यह दम दिखाया है और पिछले साल के मुकाबले उसकी रैंकिंग एक स्थान ऊपर हुई है।

बिज़नेस की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

रिलायंस जियो

भारत की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है जियो

लगभग ढाई साल पहले शुरू हुई मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो अप्रैल में देश की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन गई थी।

जियो ने सब्सक्राइबर की संख्या के मुकाबले में एयरटेल को पछाड़कर यह स्थान हासिल किया था।

अप्रैल में जियो के 30.6 करोड़ सब्सक्राइबर थे और यह वोडाफोन-आईडिया (38.7 करोड़ सब्सक्राइबर) से पीछे थी।

एयरटेल के 28.4 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। जियो इतनी तेज गति से बढ़ने वाली देश की पहली टेलीकॉम कंपनी है।

मुकाबला

जियो ने बढ़ाई दूसरी कंपनियों की मुश्किलें

सितबंर, 2016 में अपनी शुरुआत से ही रिलायंस जियो ने बाजार में आक्रामक रूख अपनाया है।

पहले तीन महीने तक यूजर्स को फ्री सर्विस और उसके बाद कम कीमत पर कॉलिंग और इंटरनेट की सुविधा ने दूसरी कंपनियों के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी।

जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल और वोडाफोन-आईडिया जैसी कंपनियों को अपनी रणनीति में पूरा बदलाव करना पड़ा था।

विशेषज्ञों का मानना है कि जियो कुछ समय में सबसे बड़ी कंपनी बन सकती है।

सब्सक्राइबर

जियो ने साल के तीन महीनों में जोड़े 2.7 करोड़ नए सब्सक्राइबर

जानकारों का मानना है कि जिस गति से जियो के सब्सक्राइबर बढ़ रहे हैं, उस हिसाब से अगले एक-दो सालों में जियो वोडाफोन-आईडिया को पछाड़ देगी।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, जियो ने इस साल जनवरी से लेकर मार्च के बीच में 2.7 करोड़ नए सब्सक्राइबर जोड़े हैं। बीेते साल जियो से 12 करोड़ नए सब्सक्राइबर जुड़े थे।

जियो के आने से भारतीय टेलीकॉम और इंटरनेट बाजार पूरी तरह से बदल गया है।

खबर शेयर करें

भारत

मुकेश अंबानी

सैमसंग

पेटीएम

फ्लिपकार्ट

फेसबुक

रिलायंस जियो

गूगल

खबर शेयर करें

अगली खबर