लोन आवेदन अस्वीकार होने के पाँच कारण

बिज़नेस

09 May 2019

इन पाँच कारणों से आपके लोन का आवेदन हो सकता है अस्वीकार

मेडिकल इमरजेंसी हो या कोई अन्य वित्तीय इमरजेंसी, बैंक लोन ज़रूरत के समय सबके काम आ सकता है।

बैंक लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया से गुज़रना पड़ता है, जो बहुत आसान है, लेकिन लोन मिलेगा या नहीं, इसकी कोई गारंटी नहीं है।

बैंक आपके लोन के आवेदन को कई कारणों से अस्वीकार कर सकते हैं। आज हम आपको पाँच ऐसे कारण बताने जा रहे हैं, जिसकी वजह से बैंक आपके लोन के आवेदन को अस्वीकार कर सकते हैं।

#1

ख़राब क्रेडिट इतिहास और कम क्रेडिट स्कोर

लोन देने से पहले लोन देने वाला आवेदक के क्रेडिट इतिहास को देखता है। किसी भी आवेदक का ख़राब क्रेडिट इतिहास उसके लोन मिलने की संभावनाओं पर पानी फेर सकता है।

इसके अलावा लोन के योग्य होने के अवसरों को बेहतर बनाने के लिए एक अच्छा क्रेडिट स्कोर बनाए रखना भी बहुत महत्वपूर्ण होता है।

क्रेडिट स्कोर किसी भी व्यक्ति की साख का प्रतिनिधित्व करता है। लोन के समय इसकी बहुत ज़्यादा ज़रूरत पड़ती है।

#2

लोन के लिए कई बार पूछताछ और अस्वीकृति

लोन के लिए कई बार पूछताछ और अस्वीकृति

लोन के आवेदन को उस स्थिति में भी अस्वीकार कर दिया जाता है, जब पहले ही किसी वजह से व्यक्ति के लोन के आवेदन को अस्वीकार कर दिया गया हो।

यह सभी जानकारी क्रेडिट एजेंसियों और पिछले बैंक के पास रहती हैं, जो लोन लेने वाले व्यक्ति के क्रेडिट इतिहास को प्रभावित करती है।

इसके अलावा लोन के लिए आवेदन ज़्यादा नहीं करना चाहिए, क्योंकि लोन के बारे में ज़्यादा पूछताछ करने पर क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक असर पड़ता है।

बिज़नेस की खबरें पसंद हैं?

नवीनतम खबरों से अपडेटेड रहें।

नोटिफाई करें

पहले से ही हो लोन का ज़्यादा बकाया

अगर किसी व्यक्ति ने पहले ही लोन ले रखा है और उसकी उधारी ज़्यादा हो, तो भी लोन का आवेदन अस्वीकार हो जाता है। लोन देने वाले ऐसे में यह सोचते हैं कि शायद व्यक्ति लोन की रकम न चुका पाए।

#4

आवेदक की अस्थिर आय और रोज़गार का इतिहास

ज़्यादातर बैंक एक स्थिर आय और एक अच्छे रोज़गार इतिहास वाले व्यक्तियों को लोन देते हैं।

अगर लोन के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास एक स्थिर नौकरी नहीं है और वह अक्सर नौकरियाँ बदलता है, तो बैंक उनके लोन के आवेदन को अस्वीकार कर सकते हैं।

बैंकों को स्थिर रोज़गार या व्यवसाय की आवश्यकता होती है, इसका मतलब लोन के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति की एक नियमित आय होगी।

गलत दस्तावेज़ या गलत जानकारी

लोन देने वाले लोन मंज़ूर करने से पहले दिए आए दस्तावेज़ों और विवरण को सत्यापित करते हैं। ऐसे में अगर आवेदक के दस्तावेज़ गलत या जानकारी गलत पाई जाती है, तो लोन का आवेदन अस्वीकार हो जाता है।

खबर शेयर करें

भारत

बैंक

बिज़नेस

बैंक ऋण

खबर शेयर करें

अगली खबर